CORONA वायरस के 29 संदिग्ध रिम्स से हुये फरार, मचा हड़कंप

रांची: एक ओर जहां पूरे विश्व में कोरोना (CORONA) वायरस से हाहाकार मचा हुआ है। वहीं झारखंड के सबसे बड़े अस्पताल राजेंद्र आयुर्विाान संस्थान-रिम्स से अब तक कोरोना के 29 संदिग्ध फरार हो गये है। इसके बात का पता चलते ही रिम्स प्रबंधन का हाथ पांव फूलने लगे हैं। कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार चिकित्सों में इसे लेकर हड़कंप मचा हुआ हैं। रिम्‍स प्रबंधन को जांच के लिए सैंपल देने के बाद से गायब इन संदिग्‍धों को लेकर शासन-प्रशासन में हड़कंप मच गया है। माना जा रहा है कि टेस्‍ट पॉजीटिव पाए जाने तक ऐसे संदिग्‍ध कई लोगों को अपनी चपेट में ले लेंगे। राज्‍य में महामारी कानून लागू हाेने के बाद रांची, रामगढ़, गिरिडीह, चतरा, गुमला, धनबाद और चाईबासा समेत कई शहरों से कोरोना के अधिसंख्‍य संदिग्‍ध भूमिगत हो गए हैं। ऐसे फरार संदिग्‍धाें की पहचान करने को लेकर स्‍वास्‍थ्य विभाग ने आम लोगों को अलर्ट किया है। इधर बुधवार को लातेहार सदर अस्पताल में कोरोना वायरस का संदिग्ध पाया गया है। मरीज को चिकित्सकों ने वार्ड में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया है। वहीं लातेहार जिले के काबीर उरांव (बदला हुआ नाम) में कोरोना वायरस के लक्ष्ण देखे गये हैं।

रिम्स प्रबंधन ने कहा यह अफवाह है

रिम्स प्रबंधन की ओर से एक प्रेस काॅन्फ्रेस का आयोजन कर यह बताया गया है कि मीडिया में जो खबर चल रही वह वह बिल्कुल झुठ है। मीडियाबंधुओं को भी चाहिय की ऐसे संवेदनशील मामले पर किसी जिम्मेवार पदाधिकारी के जानकारी के बीना ऐसा न्यूज ना चलाये जिससे माहौल खराब हो। 29 मरीजों के फरार होने के संबंध में उन्होंने बताया कि ये सभी यात्रा करके आये हुये थे और उनके किसी भी तरह का सिमटन नहीं के बराबर है। उनका सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया है। उसके बाद प्रबंधन द्वारा उनसे यहीं पर रहने के लिए कहा गया था पर वे सभी अपने घर पर रहने की बात कर यहां से चले हैं भागे नहीं हैं।