विश्व आदिवासी दिवस के उपलक्ष्य में पल्हारपुर गांव में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन

शंकर सुमन की रिपोर्ट
महागामा: विश्व आदिवासी दिवस के शुभ अवसर पर सोमवार को महागामा प्रखंड अंतर्गत लहठी पंचायत के पल्हारपुर गांव में रंगारंग संस्कृति कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया ।कार्यक्रम में सर्वप्रथम आदिवासी समुदाय द्वारा अपने इष्ट देव पूर्वजों को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए पूजा अर्चना की गयी। माल्यार्पण कार्यक्रम में लहठी पंचायत के मुखिया सावित्री हेम्ब्रम, आदिवासी समन्वय समिति के अध्यक्ष प्रबोध सोरेन,माछितांढ पंचायत के मुखिया राजेश सोरेन, मुख्य रूप से उपस्थित थे। वही अपने संबोधन में प्रबोध सोरेन ने कहा आज के दिन अपने भविष्य पीढ़ी आदिवासी को संरक्षण व संवर्धन तथा उत्कर्षन के संदर्भ में अपने समुदाय के समक्ष बातों को रखने का एक उचित प्लेटफार्म है ।जिसे हमारे भविष्य पीढ़ी प्रेरणा लेंगे साथ ही साथ पिछली पीढ़ी से ली गयी अनुभव का साझा करेंगे। उन्होंने कहा आदिवासी प्रकृति के पूजक है ।इसलिए प्रकृति को बरकरार रखना सिर्फ आदिवासी ही नहीं सभी समुदाय का परम धर्म है। प्रकृति है तो मानव जाति विद्यमान है अगर प्रकृति के साथ खिलवाड़ होगी जो हमारे भविष्य पीढ़ी के लिए बहुत ही संकट हो जाएगा। कार्यक्रम को सफलतापूर्वक संचालन करने में गंगाराम टूडू , राजेश बेसरा, अनिल टुडू,अशोक बेसरा,महादेव बेसरा,गणेश मरण्डी,बिमल मरण्डी,मनोहर मरण्डी इत्यादि की भूमिका रही कार्यक्रम के बीच में स्थानीय पल्हारपुर के बच्चे द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम व प्रसिद्ध गायक संथाली क्षेत्र के राजेश बेसरा के द्वारा बेहतरीन गीत हीरो होंडा,ए गुया ए गुया प्रस्तुत की गई ।जिसे दर्शकों ने भूरी भूरी प्रशंसा की, वहीं लहठी पंचायत के मुखिया सावित्री हेम्ब्रम ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा विश्व आदिवासी दिवस के उपलक्ष्य में अपने आदिवासी भाई बहनों को संदेश दिया कि हमलोगों की एकता ,और अपने समाज की विकास के लिए एकजुटता का सभी परिचय दे। तभी आदिवासी समाज का उत्थान होगा।