पलामू: कटा चालान, जुर्माना में कम पड़ा 30 रुपया, फिर जानिये मजिस्ट्रेट ने क्या किया….

पांकी से लौकेश सिंह की रिपोर्ट

मनातू: स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह अभियान के तहत मनातू थाना स्थित चल रहे जांच अभियान के दौरान मजिस्ट्रेट रंजीत कुमार ने 30 रुपया के चलते वाहन को नहीं छोड़ा। मामला बिहार से आने वाले एक फोर व्हीलर गाड़ी की है।
स्विफ्ट डिजायर गाड़ी चला रहे व्यक्ति पुलिस प्रशासन का ही था लेकिन उन्होंने मास्क का प्रयोग नहीं किया था ना ही उनके पास ई पास थी।मनातू थाना चेक पोस्ट पर नियुक्त दंडाधिकारी ने पुलिस प्रशासन के द्वारा गाड़ी को रोका गया उन्हें हिदायत दी गई लेकिन वाहन चला रहे व्यक्ति ने सरकार के दिशा निर्देशों का कोई पालन नहीं किया हुआ था।नतीजतन नियुक्त मजिस्ट्रेट रंजीत कुमार ने चालान काट दी।पैसा वसूली की जब बात हुई उक्त व्यक्ति के पास पैसे कम पड़ गए।आनन-फानन में उन्होंने अपने सहयोगियों के पास पैसे के लिए कॉल की लेकिन किसी ने नहीं सुना।घंटो गाड़ी को रोका गया। पत्रकारों द्वारा यह पूछे जाने पर कि आखिर गाड़ी क्यों रुकी हुई है ड्राइव कर रहे स्विफ्ट डिजायर गाड़ी के ड्राइवर ने बताया उनके पास पैसे कम पड़ गए हैं चालान कट गई है।गाड़ी के ऊपर पुलिस लिखा हुआ था। पत्रकारों ने पैसे कम पड़ जाने के कारण जो पैसे कमी थी वह पैसे उन्हें भेंट की तब जाकर अपना गाड़ी लेकर गंतव्य स्थान की ओर प्रस्थान किया।मालूम कि मनातू प्रखंड थाने पर 24 घंटे जांच चेकिंग अभियान चलाई जा रही है।थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह ने लोगों से अपील की है सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का प्रयोग,बेवजह घर से निकलना, सरकार के दिशा निर्देशों का पालन नहीं करना कानूनन गलत है।
उन्होंने कहा सरकार के दिशा निर्देशों का पालन अवश्य करें।
मौके पर थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह, एसआई जितेंद्र मिश्रा एसआई पंकज कुमार सिंह, एएसआई रवि चौरसिया, एएसआई सीताराम यादव, एएसआई रीतलाल प्रसाद यादव, सुखदेव लोहरा आदि पुलिस के जवान मुस्तैद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *