डाइर जतरा हर्षोउल्लास के साथ मनाई गई

खूंटी: खूँटी जिले के कर्रा प्रखंड अंतर्गत डाड़ी गांव में पारंपरिक डाइर जतरा हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। जिसका उद्घाटन केंद्रीय जनजातीय विकास मंत्री अर्जुन मुंडा के जिला सांसद प्रतिनिधि मनोज कुमार ने किया।
आयोजन समिति के द्वारा मुख्य अतिथि को गाजे बाजे के साथ पारंपरिक वेशभूषा में नृत्य करते हुए मंच तक पहुंचाया गया। सांसद के जिला प्रतिनिधि ने कहा कि धार्मिक एवं सांस्कृतिक धरोहर हम सभी को मिलकर बचाए रखने की आवश्यकता है जिसे नष्ट करने के लिए लोग लगे हुए हैं। उन्होंने यह भी कहा कि साथ ही कुछ लोग सनातन आदि धर्म और संस्कृति को नष्ट करने का कुचक्र लगातार रच रहे हैं जिसे बचाने की आवश्यकता है। पुराने संस्कृति को नष्ट करने के लिए घात लगाए हुए हैं।
विदित हो कि यह डाईर जतरा सोहराई पर्व के उपलक्ष्य में प्रत्येक वर्ष उक्त गांव के टोंगरी में लगाया जाता रहा है। जिसमें पच्चीस तीस गांवों क्षेत्रों के लोग शामिल होते हैं। इस बार भी लोगों की अच्छी खासी भीड़ दिखाई पड़ी। जहां कतारी (ईख) की बिक्री काफी मात्रा में देखी गई।

इस पारंपरिक जतरा में क्षेत्रीय नाच प्रतियोगिता भी हुआ। जिसमें 5 गांव के लोग पारंपरिक वेशभूषा और गाजे-बाजे के साथ नृत्य प्रतियोगिता में भाग लिये। जीतने वाले समूहों को पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया।
आयोजन समिति इसके लिए पूरे जोशो खरोश के साथ लगा हुआ था। जिसकी अध्यक्षता विक्रम नाग, उपाध्यक्ष दीपक महतो, कोषाध्यक्ष भीखा मुंडा, मुखिया बंधना उरांव, सुदर्शन भोक्ता, कर्मा धान, विमल होरो, प्रहलाद मुंडा, बुद्धू धान, रिझा मुंडा, उदय उरांव, सुकरा मुंडा, सुनील प्रधान, विजय संगा, गंदुरा उरांव, गोहला पाहन आदि ने किया।