यास तूफान व वज्रपात से डीसी ने की लोगों से सावधानी बरतने की अपील

गुमला: उपायुक्त  शिशिर कुमार सिन्हा ने चक्रवाती तूफान यास को ध्यान में रखते हुए गुमला जिलेवासियों से सुरक्षित स्थानों पर आश्रय लेने की अपील की। उन्होंने समस्त गुमला जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा है कि आंधी-बारिश के दौरान अपने घरों में रहे, दीवार और पेड़ के नीचे नहीं खड़े हों, जिनका कच्चा मकान है वे नजदीक के किसी सरकारी भवन, स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र, सामुदायिक भवन, पंचायत भवन में शिफ्ट हो जाएं। इस दौरान वज्रपात की संभावनाओं को देखते हुए जंगल, खेत, तालाब, नदी में नहीं जाने की अपील भी की है।

चक्रवात के दौरान व बाद में निम्न सावधानी बरतें

यदि आप घरों के अंदर हैं-

● बिजली का मेन स्विच व गैस सप्लाई तुरंत बंद कर दें.
● दरवाजे व खिड़कियां बंद रखें।
● यदि आपका घर असुरक्षित है, तो चक्रवात आने से पहले किसी सुरक्षित स्थान पर चले जाएं ।
● रेडियो/ट्रांजिस्टर सुनें।
● उबला हुआ या क्लोरीनयुक्त पानी ही पीएं।
● सिर्फ आधिकारिक चेतावनी पर ही विश्वास करें।

यदि आप घर से बाहर हैं-

● क्षतिग्रस्त इमारत में ना जाएं।
● टूटे हुए बिजली के खम्भों, तारों व दूसरी नुकीली चीजों से बचे।
● जल्द से जल्द किसी सुरक्षित स्थान पर पहुंचे।
● किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटने पर उसकी सूचना जिला प्रशासन/ पुलिस प्रशासन को दें ताकि यथाशीघ्र आवश्यक कदम उठाया जा सके।