डीसी ने किया सदर अस्पताल के वैक्सीनेशन सेंट, सैंपल कलेक्शन आईसीयू व अन्य स्थानों का निरीक्षण

★ वायरस संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए बेहतर योजना बनाने का प्रयास किया जा रहा है, जिसमें अभी वर्तमान में उपलब्ध वेड की संख्या में इजाफा किया जाएगा और हम लोग कोशिश कर रहे हैं कि वायरस संक्रमण को रोकें भी और उसका ठीक से उपचार भी कर सकें: अनन्य मित्तल
रामगोपाल
चाईबासा : पश्चिमी सिंहभूम जिला उपायुक्त श्री अनन्य मित्तल के द्वारा अपर उपायुक्त श्री एजाज़ अनवर, अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ सुंदर मोहन समड़, डॉ वी.के सिंह, डॉ संजय कुजूर, सदर अनुमंडल पदाधिकारी श्री शशीन्द्र कुमार बड़ाईक, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी श्री दिलीप खलको के साथ सदर अस्पताल चाईबासा में संचालित कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर, सैंपल कलेक्शन सेंटर, आईसीयू कक्ष का जायजा लिया गया। इस क्रम में उपायुक्त के द्वारा सेंटर पर उपस्थित चिकित्सकों से केंद्र की कार्यप्रणाली एवं पंचायतवार संचालित टीकाकरण अभियान की जानकारी लेते हुए अभियान के निरंतरता बरकरार रखने हेतु कई बिंदुओं पर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। उपायुक्त के द्वारा जिले में सैंपल कलेक्शन एवं टेस्टिंग को बढ़ावा देने के लिए एक विशेष कार्य योजना तैयार करते हुए एंटीजन, ट्रूनेट एवं rt-pcr जांच को बढ़ाने तथा आईसीयू कक्ष को पूर्ण रूप से संचालित रखने हेतु भी निर्देशित किया गया।

सदर अस्पताल भ्रमण के दौरान उपायुक्त के द्वारा कुपोषण उपचार केंद्र का भी अवलोकन किया गया एवं अवलोकन के क्रम में उपायुक्त के द्वारा कुपोषण उपचार केंद्र प्रभारी डॉ जगन्नाथ हेम्ब्रम के साथ कुपोषण उपचार केंद्र के संचालन एवं अन्य गतिविधियों की जानकारी ली गई। उपायुक्त के द्वारा इसी क्रम में प्रमंडलीय ट्रेनिंग सेंटर पाताहातू में संचालित कोविड-19 केयर सेंटर का जायजा लेते हुए वहां पर उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी ली गई। उपायुक्त के द्वारा साथ में मौजूद चिकित्सकों को स्पष्ट तौर पर निर्देश दिया गया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामले को देखते हुए हमें पूर्ण रूप से तैयार रहना है। उपायुक्त के द्वारा चिकित्सकों को बेहतर कार्य योजना बनाने के अलावा जिले में उपलब्ध संसाधनों का प्रयोग करते हुए बेड्स की संख्या में इजाफा करने, पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था रखने तथा आवश्यकतानुसार अन्य सामग्रियों की भी उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु निर्देशित किया गया है।