उपायुक्त की अध्यक्षता में अस्पताल प्रबंधन समिति के कार्यकारिणी समिति की समीक्षा बैठक संपन्न

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला.उपायुक्त सह अध्यक्ष कार्यकारिणी समिति (एचएमएस) शशि रंजन की अध्यक्षता में अस्पताल प्रबंधन समिति के कार्यकारिणी समिति की समीक्षा बैठक आईटीडीए भवन के सभागार में की गई।

बैठक में सदर अस्पताल में उपलब्ध चिकित्सीय उपकरणों की समीक्षा की गई। जिसमें अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा पोर्टेबल एक्सरे मशीन की मांग रखी गई। अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा मुख्य रूप से विशेष नवजात शिशु देखभाल इकाई (एसएनसीयू), ऑपरेशन थिएटर तथा लेबर रूम में पोर्टेबल एक्सरे मशीन की आवश्यकता होने की जानकारी दी गई। जिसपर उपायुक्त ने उक्त मशीन की आपूर्ति जल्द कराने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने पोर्टेबल एक्सरे मशीन उपलब्ध कराने के पश्चात् उक्त मशीन का पूर्ण इस्तेमाल किए जाने पर विशेष जोर दिया।

बैठक में अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा अस्पताल के धुलाईघर (लॉन्ड्री) हेतु मैकेनिकल लॉन्ड्री की व्यवस्था किए जाने की मांग रखी गई। अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा बताया गया कि वर्तमान में मैकेनिकल लॉन्ड्री की व्यवस्था नहीं होने के कारण काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। इसपर उपायुक्त ने अस्पताल प्रबंधन समिति को जल्द ही मैकेनिकल लॉन्ड्री की सुविधा दिए जाने का निर्देश दिया।

बैठक में दैनिक कर्मियों के पारिश्रमिक में बढ़ोतरी किए जाने की समीक्षा की गई। जिसपर उपायुक्त ने श्रम विभाग द्वारा निर्धारित श्रम दर तथा उनके कौशल के आधार पर दैनिक कर्मियों के पारिश्रमिक में बढ़ोतरी करने का निर्देश दिया।

बैठक में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में कार्यरत कंप्यूटर ऑपरेटर के अनुमोदन पर विचार-विमर्श किया गया। जिसमें अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा बताया गया कि वर्तमान में आयुष्मान भारत योजना के तहत 01 कम्प्यूटर ऑपरेटर कार्यरत है। वहीं एक और कम्प्यूटर ऑपरेटर की आवश्यकता होने की बात रखी गई। जिसपर उपायुक्त द्वारा इसका अनुमोदन किया गया।

बैठक में अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा सदर अस्पताल में 01 एम्बुलेंस चालक रखने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला गया। समिति द्वारा बताया गया कि वर्तमान में सदर अस्पताल में 03 एम्बुलेंस सेवारत हैं। 03 एम्बुलेंस चालक पूर्व से कार्यरत हैं तथा 01 अतिरिक्त चालक की आवश्यकता है। इसपर उपायुक्त ने स्वीकृति देते हुए 01 अतिरिक्त चालक की मांग को पूर्ण करने का निर्देश दिया।

बैठक में सामान्य कचरे के प्रतिदिन उठाव की समीक्षा की गई। उपायुक्त ने अस्पताल प्रबंधन समिति को रोजाना अस्पताल से निकलने वाले कचरे का उचित निपटारा करने का निर्देश दिया। जिसपर अस्पताल प्रबंधन समिति द्वारा बताया गया कि प्रतिदिन अधिक मात्रा में अस्पताल द्वारा कचरे एकत्रित किए जाते हैं जिनका उचित निपटान किया जाना अति आवश्यक है तथा प्रतिदिन कचरा उठाव हेतु नगर परिषद द्वारा ट्रैक्टर अथवा अन्य वाहन के माध्यम से कचरा उठाव किए जाने की मांग रखी गई। जिसपर उपायुक्त ने नगर परिषद द्वारा कचरा वाहन की व्यवस्था सुनिश्चित कर कचरा उठाव कराने का निर्देश दिय़ा।

बैठक में अस्पताल भवन में पानी सीपेज तथा ब्लॉकेज वाले हिस्सों की मरम्मति पर विचार-विमर्श किया गया। जिसपर उपायुक्त ने भवन निर्माण विभाग को अस्पताल के नवीकरण करने का निर्देश दिया।

बैठक में गुमला जिले में वैश्विक महामारी नोवल कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार को देखते हुए उपायुक्त ने सिविल सर्जन को सैम्पलिंग की संख्या में वृद्धि करने का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त सह अध्यक्ष कार्यकारिणी समिति (एचएमएस) शशि रंजन सहित जिला पंचायत समिति अध्यक्ष किरण माला बाड़ा, सिविल सर्जन डॉ. विजया भेंगरा, जिला आयुष पदाधिकारी डॉ. परमहंस प्रसाद, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा, सहायक अभियंता भवन निर्माण विभाग, कार्यपालक अभियंता विद्युत विभाग सत्यनारायण पातर, कार्यपालक अभियंता पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल चंदन कुमार, प्रभारी चिकित्सक (एसएनसीयू) इकाई राहुलदेव उराँव, आरसीक्यूए राँची राहुल कुमार, अस्पताल प्रबंधक व अन्य उपस्थित थे।