उपायुक्त गुमला की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कार्य बल की समीक्षात्मक बैठक संपन्न

उपायुक्त ने आगामी 20 से 27 मार्च तक गुमला जिले में होने वाले 06 दिवसीय टीकाकरण अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु दिए कई दिशा-निर्देश

गुमला: उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में जिला स्तरीय कार्य बल (डी.टी.एफ) की समीक्षात्मक बैठक आईटीडीए भवन के सभागार में आयोजित की गई। उक्त बैठक में उपायुक्त ने विशेष कोविड-19 टीकाकरण अभियान, कोविड-19 वैक्सिनेशन की अद्यतन स्थिति एवं प्रगति सहित अन्यान्य विषयों की समीक्षा कर संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

बैठक में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया कि छह दिवसीय विशेष टीकाकरण अभियान के सफल क्रियान्वयन हेतु सभी प्रखंडों से पंचायतस्तरीय माईक्रोप्लान प्राप्त कर लिया गया है। इसपर उपायुक्त ने ग्रामवार वीएलई की सूची के आधार पर प्राप्त कि गए डाटा को माईक्रोप्लान में सम्मिलित करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने नगर परिषद (शहरी क्षेत्र) के कुल 22 वार्डों को शत-प्रतिशत कोविड-19 टीकाकरण से आच्छादित करने हेतु वैक्सिनेशन केंद्रों की संख्या में ईजाफा करने का निर्देश दिया। नगर प्रबंधक द्वारा बताया गया कि वर्तमान में शहरी क्षेत्रांतर्गत कुल 03 केंद्र अवस्थित हैं। इसपर उपायुक्त ने केंद्रों की संख्या बढ़ाकर 10 करने का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त ने जिले के सभी 159 पंचायतों को आच्छादित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा गठित 159 टीकाकरण दलों के अतिरिक्त प्रत्येक प्रखंडों एवं नगर परिषद क्षेत्र में 05-05 और टीकाकरण दलों को गठित करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को अपने-अपने संबंधित क्षेत्रांतर्गत पड़ने वाले टीकाकरण केंद्रों में लाभुकों को दिए जाने वाली सभी मूलभूत सुविधाओं की व्यवस्था सुदृढ़ करने हेतु कार्यक्रम तैयार कर समर्पित करने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने डीपीएम जेएसएलपीएस को 06 दिवसीय टीकाकरण अभियान में विशेष रूप से लक्षित समूह 45-59 तथा 60 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग वाले व्यक्तियों का शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने के उद्देश्य से सभी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के द्वारा चिन्हित स्थल पर लाभुकों को टीकाकरण हेतु लाने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने समूह की महिलाओं को अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार कर आमजनों में जागरूकता फैलाने का निर्देश दिया। डिपीएम द्वारा बताया गया कि गाँव-गाँव जाकर स्वयं सहायता समूह की सक्रिय महिलाओं की चयन प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। साथ ही उन्होंने बताया कि लक्षित समूह का सुगमतापूर्वक पंजीकरण सुनिश्चित करने हेतु टीकाकरण से एक दिन पूर्व 45 से 59 तथा 60 वर्ष से ऊपर आयुवर्ग वाले लोगों का आधार संख्या एवं मोबाइल नंबर प्राप्त कर पंजीकरण का कार्य कर लिया जाएगा। इसपर उपायुक्त ने आधार संख्या एवं मोबाइल नंबर प्राप्त कर अपने नजदीकी प्रज्ञा केंद्रों पर जाकर डाटा प्रविष्टि सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। साथ ही उपायुक्त ने प्रति टीकाकरण केंद्र पर कम से कम 100 व्यक्तियों का टीकाकरण सुनिश्चित करने पर विशेष जोर दिया। इसके साथ ही उन्होंने सभी पंचायत मुख्यालय जहाँ टीकाकरण का कार्य संपादित किया जाएगा, उस गाँव के स्वयं सहायता समूह की संबंधित दीदीयों को केंद्रों पर आने वाले लाभुकों की पेयजल एवं बैठने की व्यवस्था कराने का निर्देश डीपीएम को दिया। वहीं अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता ने एक बार में कोवल 10 व्यक्तियों के समूह को ही टीकाकरण के लिए सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया, ताकि वैक्सिन का डोज क्षय न हो सके।

उपायुक्त ने ग्रामवार प्राप्त किए गए वीएलई के डाटा के आधार पर वीएलई के प्रशिक्षण का कार्य प्रारंभ करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया। वहीं उन्होंने जिला मुख्यालय सहित सभी पंचायतों में होने वाले विशेष अभियान के तहत प्रत्येक टीकाकरण केंद्र पर अभियान से संबंधित फ्लैक्स बैनर अधिष्ठापित करने का निर्दश दिया।

बैठक में उपायुक्त ने प्रखंडवार कोविड-19 वैक्सिनेशन की अद्यतन स्थिति एवं प्रगति की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान पाया गया कि कुछ प्रखंडों के स्वास्थ्य कर्मी कोविड-19 वैक्सिन का दूसरा डोज नहीं ले पाए हैं। इसपर उपायुक्त ने छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मियों को चिन्हित कर उन्हें कोविड-19 वैक्सिन का दूसरा डोज दिलाने का निर्देश संबंधित प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को दिया। साथ ही छूटे हुए स्वास्थ्य कर्मियों की सूची भी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। प्रखंडवार टीकाकरण के पहले डोज के अद्यतन स्थिति की समीक्षा के क्रम में पालकोट एवं सिसई प्रखंड में क्रमशः 72% व 76% प्रगति पाई गई। इसपर उपायुक्त ने स्थिति में सुधार करते हुए टीकाकरण दर में ईजाफा करने का निर्देश संबंधित प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को दिया। इसके साथ ही उपायुक्त ने टीकाकरण किए गए तथा टीकाकरण से अछूते लोगों की सूची अविलंब उपलब्ध कराने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया।

बैठक में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित एवं कार्यान्वित सभी योजनाओं की विस्तृत विवरणी ससमय प्रतिवेदित करने का निर्देश दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ. विजया भेंगरा, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, जिला पंचायती राज पदाधिकारी मोनिका रानी टूटी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी देवेंद्रनाथ भादुड़ी, जिला आपूर्ति पदाधिकारी गुलाम समदानी, डब्लूएचओ के डॉ मृत्युंजय कुमार, यूनिसेफ आरसी पवन कुमार, डीपीएम जेएसएलपीएस मनीषा सांचा, नगर प्रबंधक नगर परिषद अनंत खलखो, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमर हुड़मारे, सीएससी मैनेजर रंजन नंदा, सभी प्रखंडों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी व अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *