उपायुक्त ने कहा आरोग्य सेतु एप्प होगा और भी प्रभावी, जिले में 60,205 लोगों ने किया पंजीकृत

चतरा। वैश्विक महामारी नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के प्रकोप से बचाव एवं रोकथाम के मद्देनजर सरकार ने कोविड-19 का दृढ़ता से मुकाबला करने के लिए लोगों को एकजुट करने के उद्देश्य से इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय के द्वारा विकसित आरोग्य सेतु एप्प प्रत्येक भारतीय के स्वास्थ्य और कल्याण के लिए बनाया है। यह एप्प लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण के जोखिम का आंकलन करने में सक्षम होगा। उपायुक्त दिव्यांशु झा ने बताया कि आरोग्य सेतु एप्प अपने मोबाइल में इंस्टॉल करने से कोरोना के संक्रमण से काफी हद तक दूर रहा जा सकता है। यह एप्प आपको यह भी बताएगा कि कौन से क्षेत्र में लोग कोरोना वायरस से ज्यादा संक्रमित हैं और कौन सा इलाका संक्रमण से कम प्रभावित है। उपायुक्त ने जिलावासियों से अपील की है कि वे अपने मोबाइल पर आरोग्य सेतु एप्प को डाउनलोड करें एवं इंस्टॉल कर इसका इस्तेमाल करें ताकि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में हम एक कदम आगे रहें। जितने ज्यादा से ज्यादा लोग इस एप्प का इस्तेमाल करेंगे यह एप्प उतना ही प्रभावी बनेगा। वहीं जिला सूचना विज्ञान पदाधिकारी (डीआईओ) राजीव रंजन ने बताया कि अब तक जिले में कुल 60,205 लोगों ने अरोग्य सेतु एप्प को डाऊनलोड किया है। डाऊनलोड के पश्चात एप्प में लोगों ने स्वयं को पंजीकृत किया एवं सफलता पूर्वक इसका इस्तेमाल कर रहे है। एक बार एक आसान और उपयोगकर्ता के अनुकूल प्रक्रिया के माध्यम से स्मार्ट फोन में स्थापित होने के बाद एप्प के साथ स्थापित अन्य उपकरणों का पता लगाएगा जो उस फोन के दायरे में आते हैं। जीपीएस तकनीक पर आधारित यह एप्लीकेशन अपने मापदंडों के आधार पर संक्रमण के जोखिम की गणना कर सकता है। यदि इनमें से किसी भी संपर्क का एक्शन पॉजिटिव आता है।