उपायुक्त ने किया जिला शिक्षा स्थापना समिति की बैठक

– डीईओ – डीएसई, स्थापना उप समाहर्ता को दिया जरूरी दिशा – निर्देश
पाकुड़:  समाहरमालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपायुक्त कुलदीप चौधरी ने जिला शिक्षा स्थापना समिति की बैठक की। मौके पर उप विकास आयुक्त अनमोल कुमार सिंह उपस्थित थे। बैठक में विभाग द्वारा दिए निर्देश के अनुसार छूटे हुए शिक्षकों को वैचारिक रूप से वरीयता सूची (ग्रेड वन) निर्धारित करने को ले विभिन्न बिंदुओं पर चर्चा की गई। इसको लेकर उपायुक्त द्वारा गठित कमेटी के सदस्य सह स्थापना उप समाहर्ता राजीव रंजन ने बताया कि जिले में कुल 841 शिक्षक है। जिन्हें विभाग द्वारा दिए गए मार्ग दर्शन के अनुसार अलग – अलग कैटगरी में विभाजीत कर दिया गया है। पूर्व में स्नातक प्रशिक्षित कुल 151 शिक्षकों की वरीयता सूची निर्धारित है। विभाग के निर्देशानुसार शेष 33 शिक्षकों को वैचारिक रूप से ग्रेड वन के लिए समिति द्वारा निर्णय लिया जाना है। इस पर उपायुक्त ने क्रमवार समय – समय पर विभाग द्वारा जारी पत्रों/संकल्पों के संबंध में जिला शिक्षा अधीक्षक दुर्गानंद झा व जिला शिक्षा पदाधिकारी से जानकारी ली। उपायुक्त ने समिति सदस्यों को कोई भी निर्णय लेने से पूर्व सभी बिंदुओं पर स्थिति स्पष्ट कर लेने की बात कहीं। ताकि आगे किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो। उपायुक्त ने जिला शिक्षा अधीक्षक से शिक्षकों की सूची प्रकाशित करते हुए दावा – आपत्ति की जानकारी मांगी। डीएसई द्वारा बताया गया कि सूची प्रकाशित कर दावा – आपत्ति मांगी गई थी। जो मामले सामने आएं थे उसका निष्पादन कर दिया गया। उपायुक्त एवं उप विकास आयुक्त ने क्रमवार सभी बिंदुओं पर चर्चा कर सभी संबंधित अधिकारियों को जरूरी दिशा – निर्देश दिया। बैठक में समिति सदस्य के रूप में जिला कल्याण पदाधिकारी विजन उरांव, कार्यपालक दंडाधिकारी प्रमोद कुमार समेत अन्य उपस्थित थे।