उपायुक्त ने रायडीह प्रखंड सह अंचल कार्यालय सहित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं अंतरप्रांतीय चेकपोस्ट का निरीक्षण किया

बसंत

गुमला. आज उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा ने रायडीह प्रखंड सह अंचल कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। औचक निरीक्षण में अंचल कार्यालय के पदाधिकारी एवं कर्मियों को उपस्थित पाया गया। प्रखंड कार्यालय में एक रोजगार सेवक एवं एक अनुसेवक उपस्थित नहीं थे। दोनों अनुपस्थित कर्मियों से बिना किसी सूचना के अनुपस्थित रहने के संबंध में स्पष्टिकरण पूछने का प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया गया।

प्रखंड कार्यालय में संधारित विभिन्न पंजी एवं संचिका की जाँच की गई। कार्यालय में उपस्थिति पंजी, सूचना अधिकार पंजी, सेवा अधिकार पंजी संधारित पाया गया। प्रखंड का सामान्य रोकड़ पंजी 14 फरवरी तक अद्यतन है। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि कार्यालय नाजिर कोविड-19 के कार्य में व्यस्त रहने के कारण रोकड़ पंजी को अद्यतन नहीं कर पाया है। साथ ही प्रखंड का अतिरिक्त रोकड़ पंजी 02 जुलाई 2020 तक संधारित है। प्रखंड के अग्रिम पंजी में 09 लाख 24 हजार 104 रूपये समायोजित नहीं है। उपायुक्त ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को एक सप्ताह के अंदर रोकड़ पंजी, अग्रिम पंजी, अतिरिक्त रोकड़ पंजी को अद्यतन संधारित कर प्रतिवेदित करने का निर्देश दिया।

अंचल कार्यालय का रोकड़ पंजी 09 जुलाई 2020 तक अद्यतन है। इसके बाद कोई लेन-देन नहीं हुआ है। अंचल के अग्रिम पंजी में 28 हजार 461 रूपये का भुगतान लंबित है। उपायुक्त ने अंचल अधिकारी को लंबित अभिश्राव भुगतान हेतु राजस्व कार्यालय से आवंटन उपलब्ध कराने का प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया। भूमि बैंक में 06 हजार 925 एकड़ जमीन दिखाया गया है।

अंचल एवं प्रखंड कार्यालय में कार्यरत कर्मियों का सेवापुश्त अद्यतन संधारित है। सेवानिवृत कर्मियों का कोई भी मामला लंबित नहीं है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 03 भूमिहीनों का आवेदन प्राप्त है। इनके लिए भूमि बंदोबस्ती का प्रस्ताव सदर अनुमंडल पदाधिकारी को भेजा गया है।

प्रखंड भ्रमण एवं निरीक्षण के दौरान उपायुक्त ने अंतरप्रांतीय सीमा माझाटोली चेकपोस्ट का निरीक्षण किया। चेकनाका में संधारित पंजियों का अवलोकन किया। चेकनाका में संदीप कुमार भगत एवं विनोद साहू दण्डाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्त हैं। दोनों दण्डाधिकारी अपने कार्य में उपस्थित थे। उपायुक्त ने छत्तीसगढ़ से आने वाले वाहनों को झारखंड में प्रवेश के लिए पास निर्गत है अथवा नहीं इसपर विशेष ध्य़ान रखने का निर्देश दिया। साथ ही सीमाक्षेत्र से झारखंड प्रवेश करने वाले वाहनों की संख्या, चालक-संचालक का मोबाइल नंबर पंजी में संधारित करने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने रायडीह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं क्वारनटाईन सेंटर का निरीक्षण कर वहां की व्यवस्था का अवलोकन किया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में प्रतिनियुक्त तीनों डॉक्टर अपने कार्य में उपस्थित थे। स्वास्थ्य़ केंद्र में एक कोरोना पॉजिटिव मरीज ईलाजरत है। यह संक्रमित मरीज प्रतिबंधित दवा के व्यापार में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी के बाद कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में ईलाज के लिए रखा गया है। यहां के क्वारनटाईन सेंटर में अभी एक भी संक्रमित मरीज नहीं है। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी ने बताया कि क्वारनटाईन सेंटर में बेड एं अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं। अस्पताल में भी सभी आवश्यक संसाधन उपलब्ध हैं।

उपायुक्त के निरीक्षण एवं भ्रमण कार्यक्रम के दौरान स्थापना उप समाहर्त्ता विद्या भूषण, प्रखंड विकास पदाधिकारी रायडीह मिथिलेश कुमार, अंचलाधिकारी नरेश मुण्डा, कार्यालय अधीक्षक शशि कुमार मिश्रा, रायडीह थाना प्रभारी व अन्य प्रखंड कर्मी उपस्थित थे।