डीसी ने राजस्व से जुड़े मामले का किया समीक्षा

पाकुड़ : समाहरणालय सभागार में बुधवार को डीसी वरुण रंजन की अध्यक्षता में राजस्व से संबंधित निःशुल्क एवं शुल्क भू-हस्तांतरण एवं भू-अर्जन से जुड़ी विभिन्न विषयों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। इस दौरान डीसी के द्वारा जिले में विभिन्न योजनाओं के तहत जमीन के भू-हस्तांतरण से संबंधित लंबित मामलों की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को निदेशित किया गया कि जमीन हस्तांतरण से संबंधित जमीनों की सूची बनाकर अभिलेख प्रस्ताव ससमय तैयार करें। उपायुक्त ने सभी अंचलाधिकारी को निदेशित किया कि निःशुल्क एवं शुल्क भू-हस्तांतरण एवं भू-अर्जन से संबंधित मामले में किसी भी प्रकार की समस्या हो तो अपरसमहर्ता से समन्वय कर संबधित मामलों का समाधान करा सकते है.बैठक में डीसी के द्वारा सभी अंचलाधिकारी को स्पष्ट शब्दों में निर्देशित करते हुए कहा गया कि उनके क्षेत्राधिकार की वैसी जमीन जिसकी जमाबंदी अवैध हो या फिर संदेहास्पद हो, उन सभी की जांच कराते हुए सभी का अभिलेख तैयार करे। साथ ही अवैध व संदेहास्पद जमीनों के समाधान हेतु अभियान चलाए एवं जिले में जितने भी अवैध व संदेहास्पद जमीन है, उन सभी का एक महीने के अंदर संधारण कराया जाय। उन्होंने आगे कहा कि जांच के दौरान जो भी जमीन सही पाई जाय उसे नियमित करे अन्यथा अभिलेख तैयार कर जिलां में संबंधित विभाग को भेजे उसपर जिला द्वारा अग्रेतर कार्रवाई करते हुए प्लॉट नंबर समाप्त करने की कार्यवाई की जाएगी। बैठक में अपर समाहर्त्ता मंजु रानी, अनुमंडल पदाधिकारी पंकज कुमार, उप समाहर्त्ता भूमि सुधार रविन्द्र चौधरी एवं जिले के सभी अंचल अधिकारी समेत अन्य उपस्थित थे।