एनएच 23 परियोजना के तहत रैयतों के मुआवजा भुगता की अद्यतन स्थिति की डीसी ने की समीक्षा

गुमला: उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में एन एच 23 पलमा गुमला फोरलेन पथ परियोजना अंतर्गत रैयतों के मुआवजा भुगतान की अद्यतन स्थिति की समीक्षा हेतु बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय प्रकोष्ठ में किया गया।

बैठक में बताया गया कि इस सप्ताह के अंदर रैयतों को लगभग 50 करोड़ की राशि का मुआवजा भुगतान सुनिश्चित कर लिया जाएगा। जिला भू-अर्जन पदाधिकारी ने बताया कि वर्तमान में सदर प्रखंड के भरदा ग्राम में नोटिस तैयार किया जा रहा है तथा भरदा ग्राम के रैयतों के मुआवजा भुगतान का कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है। इसपर उपायुक्त ने रै.यतों के मुआवजा भुगतान को प्राथमिकता देते हुए यथाशीघ्र भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त ने तिथिवार ग्रामों में रैयतों के मुआवजा भुगतान हेतु कार्ययोजना बनाकर रैयतों को इसकी सूचना प्रदान करने पर बल दिया। साथ ही उनहोंने इस माह के अंत तक लगभग 80 करोड़ की राशि का मुआवजा भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उन्होंने भुगतान संबंधी कार्यों में गति लाने का निर्देश दिया, ताकि परियोजना समय पर पूर्ण हो सके।

बैठक में उपायुक्त ने विद्युत विभाग द्वारा समर्पित प्राक्कलन के आधार पर गुमला- पलमा पथ पर अवस्थित गाँवों में विद्युतिकरण के कार्य की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने विद्युत विभाग द्वारा तैयार किए गए प्राक्कलन के आधार पर एनएचएआई के साथ समन्वय स्थापित करते हुए एनएचएआई के निर्धारित दिश-निर्देशों के अनुसार विद्युतिकरण के कार्यों को संपादित करने का निर्देश दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, वन प्रमंडल पदाधिकारी श्रीकांत, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, पी.डी एन.एच.ए.आई, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी सुषमा नीलम सोरेंग, कार्यपालक अभियंता पी,एच.ई.डी मंतोष कुमार मणि, कार्यपालक अभियंता विद्युत प्रमंडल सत्यनारायण पातर, सहायक अभियंता विद्युत प्रमंडल, अंचलाधिकारी गुमला कुशलमय केनेथ मुंडू, सिसई अरूणिमा एक्का, अंचलाधिकारी भरनो व अन्य उपस्थित थे।