रेलवे ट्रैक पर मिला युवक का शव, जताई जा रही हत्या की आशंका

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो/गोमिया :गोमो-बरकाकाना रेल खंड के डुमरी बिहार रेलवे स्टेशन से लगभग 500 मीटर दूर पोल संख्या 56/11 व 56/12 के बीच मंगलवार की अहले सुबह एक युवक का शव मिलने से आस-पास के इलाके में सनसनी फैल गई। युवक गोमिया थाना क्षेत्र के सिंयारी पंचायत अंतर्गत छोटकी कोयोटांड़ निवासी लोकनाथ महतो का 25 वर्षीय पुत्र कैलाश महतो है। स्थानीय लोगों ने बताया कि रेलकर्मियों की सूचनोपरांत अहले सुबह युवक को अचेतावस्था में रेल ट्रैक में देखा गया। जिसके बाद परिजनों ने युवक के शरीर मे जान होने के संदेह में तत्काल युवक को उठाकर घर ले आए। घर लाने पर देखा गया कि युवक के गर्दन में गहरे काले रंग के निशान दिखाई पड़ा जिसे देख हत्या की आशंका जताई जा रही है। परिजनों का मानना है कि युवक की गला घोंटकर हत्या करने के बाद आत्महत्या दिखाने के मकसद से अज्ञात अपराधकर्मियों के द्वारा शव को रेल ट्रैक पर डाल दिया गया है। परिजनों ने बताया कि गोमिया थाना पुलिस को घटना की सूचना दे दी गई है। मृतक के बड़े भाई संतोष कुमार महतो ने बताया कि युवक का विवाह तीन माह पूर्व ही 30 अप्रैल को हजारीबाग जिले के चरही हेंदेगढ़ा में हुआ था। मृतक की नव विवाहित पत्नी लीलावती कुमारी ने बताया कि देर रात खाना खाकर वह सोने चली गई, जबकि उसके पति कैलाश बहुत देर तक फोन पर बात कर रहे थे। बताया कि मध्य रात्रि वह पीछे के दरवाजे से निकलकर कहीं गए जिसके बाद वापस नहीं लौटे। पिता लोकनाथ महतो ने बताया कि सुबह लोगों द्वारा सूचना मिली कि कैलाश महतो अचेतावस्था में रेल ट्रेक पर पड़ा है। घर लाने पर पता चला कि उसकी मौत हो चुकी थी। गर्दन में काले रंग के गहरे निशान हैं जिससे पता चलता है कि अज्ञात लोगों द्वारा उसकी हत्या कर दी गई है। साथ ही बताया कि कैलाश का किसी से कोई रंजिश दुश्मनी जैसी कोई बात नहीं थी, वह मृदुभाषी व मिलनसार युवक था। घटना के बाद से उसका मोबाइल भी गुम है और कॉल करने पर बंद आ रहा है। बहरहाल घटना की सूचना के बाद मौके पर पहुंची गोमिया पुलिस मामला दर्ज कर मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराने की कोशिशों में जुटी है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ स्पष्ट कहा जा सकता है।