पत्रकार बैजनाथ पर जानलेवा हमला जिला प्रशासन की लापरवाही का नतीजा : सीपीआई

रांची: भाकपा के राज्य सचिव सह पूर्व सांसद भुबनेश्वर प्रसाद मेहता एवम कार्यालय सचिव अजय कुमार सिंह ने संयुक्त रूप से बयान जाती कर कहा है कि अपराधियों के द्वारा पत्रकार बैजनाथ महतो पर जान से मारने की नीयत से हमला किया गया है।जो झारखण्ड की राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोलता है।अपराध चरम पर है।अपराधियों के हौसले बुलंद है।पुलिस -प्रसाशन मस्त है।थाने में लिखित शिकायत दर्ज करने पर भी कोई कार्यबाही अपराधियों पर नही की गई ।पुलिस घटना घटने का इंतेजार करती रही।एक सजग पत्रकार जिसने सदर थाना में लिखित आबेदान हमला से दो दिन पहले ही दिया था।परंतु थानेदार के द्वारा कोई कार्यबाई नहीं की गई ।जो पुलिस की कार्यशैली पर प्रश्न उठता है ।जब पत्रकार से साथ यैसा हो सकता हैं तो आम नागरिको के आबेदान के साथ क्या व्यबहार किया जाता होगा नेता द्वय ने झारखण्ड सरकार से मांग की है कि पत्रकार पर जानलेवा हमला करने बाले अपराधियो को चिन्हित कर तुरंत गिरफ्तार करे।लिखित शिकायत देने के बावजूद कार्यबाई नहीं करने पर सदर थाना प्रभारी को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाये।एवम झारखण्ड सरकार जरुरी हो तो पत्रकार बैजनाथ महतो को बेहतर इलाज के लिए अपने खर्च पर राँची से बाहर भेजने की व्यबस्था करे।पत्रकारों की सुरक्षा की व्यवस्था सुनिश्चित करे।राँची में बढ़ रहे आपराधिक गतिविधियों पर रोक लगाए।
भाकपा के राज्य सचिव सह पूर्व सांसद भुबनेश्वर प्रसाद मेहता राँची जिला सचिव अजय सिंह,राजद के वरीय उपाध्यक्ष राजेश यादव एवं मासस नेता सुशांतो मुख़र्जी क़े साथ रिम्स पहुँचकर पत्रकार बैजनाथ महतो से न्यूरो वार्ड में जाकर देखा।एवम परिजनों को सांत्वना दिया बैजनाथ महतो की स्तिथि गंभीर है।इसके समुचित इलाज के लिए झारखण्ड सरकार से मांग की है।