हेसला झारखंड इस्पात के नये पावर प्लांट में कार्यरत एक मजदूर की मौत, फैक्ट्री गेट पर शव रख मुआवजा की मांग 

सिरका : थाना रामगढ़ क्षेत्र के हेसला झारखंड इस्पात फैक्ट्री के प्रांगण में बन रहे नये पावर प्लांट कार्य में लगे मजदूर सनोज कुमार बेदिया उम्र लगभग 30 वर्ष पिता गोविंद बेदिया गांव चरगी, पेटरवार (बोकारो) निवासी की झारखंड इस्पात फैक्ट्री के पीछे बीते शनिवार देर संध्या सिरका- अरगड्डा रेलवे पुल से गिरकर संदिग्ध अवस्था में गंभीर रुप से घायल हो गया। लोगों की मदद से घायल को ईलाज के लिए रामगढ़ ले जाया जा रहा था। लेकिन घायल सनोज की मृत्यु हो गई। जानकारी के मुताबिक मृतक मजदूर सनोज कुमार बेदिया लगभग 15 दिन पहले अपने गांव चरगी से झारखंड इस्पात के अंदर बनाए जा रहे नये पावर प्लांट में रियल इंडिया कंपनी में मजदूर की हैसियत से काम करने के लिए आया हुआ था। बीते शनिवार लगभग 7:30 बजे संध्या को झारखंड इस्पात के पिछले गेट से निकलकर मृतक मजदूर सनोज अपने दोपहिया वाहन में सवार होकर अरगड्डा नीचे धौड़ा की ओर जा रहा था। इसी बीच मोटरसाइकिल समेत अरगड्डा नीचे धौड़ा रेलवे पुलिया से नीचे गिर पड़ा। जिससे मृतक मजदूर को गंभीर चोटें लगी। हो हल्ला होने के बाद लोगों के सहयोग से गंभीर रूप से घायल सनोज को इलाज के लिए रामगढ़ ले जाया गया । लेकिन मजदूर की मौत हो गई ।घटना की जानकारी परिजनों और हेसला के ग्रामीणों को मिलने के बाद रविवार को कई ग्रामीण मृतक सनोज बेदिया के शव के साथ झारखंड इस्पात प्राइवेट लिमिटेड हेसला के गेट के समीप साढ़े तीन लाख रुपये मुआवजा की मांग को लेकर बैठ गए।

घटना के बाद रविवार को रियल इंडिया, झारखंड इस्पात प्राईवेट लिमिटेड, स्थानीय जनप्रतिनिधि, यूनियन प्रतिनिधि, प्रशासन अधिकारियों, मृतक के परिजनो के बीच वार्ता हुई। जिसमें लिखित रुप में ठेका कंपनी रियल इंडिया ने मृतक के परिजनों को 30 हजार रुपये और झारखंड इस्पात ने 25 हजार रुपए देने की घोषणा की। साथ ही मृतक के क्रियाक्रम के पश्चात पीड़ित परिवार को आपसी वार्ता कर एक मुश्त सहयोग राशि प्रदान करने की भी बात कहीं। वार्ता में नप अध्यक्ष युगेश बेदिया, पार्षद 12 गोपाल मुंडा, यूनियन नेता लक्ष्मण बेदिया, आनंद बेदिया, परिजन लाली बेदिया, महेश प्रजापति, सत्येन्द्र, प्रबंधन रियल इंडिया के फुलचंद मेहता, झारखंड इस्पात के कृष्णा सिंह, पी. पांडेय आदि मौजूद थे।

मृतक मजदूर सनोज कुमार बेदिया की मौसी चिंता देवी ने रविवार को बताया कि सनोज के घायल होने के पश्चात उसे हमलोगों ने रामगढ़ के प्राइम अस्पताल में ले गए। जहां ऑक्सीजन नहीं थी। ऑक्सीजन के लिए टायर मोड़ निजी अस्पताल पहुंचे , यहां सनोज को मृत घोषित कर दिया गया। मौंसी चिंता देवी ने कहां कि मृतक सनोज ने मुझे चार बार बताया कि काम करने के दौरान मुझे चोट गिरकर लगी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *