उपायुक्त ने जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के शासी परिषद की बैठक की

पाकुड़: जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट के शासी परिषद की बैठक उपायुक्त वरुण रंजन की अध्यक्षता में आयोजित की गई। समाहरणालय सभागार में आयोजित इस बैठक में जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (DMFT) के क्रियाकलापों के बारे में विस्तारपूर्वक चर्चा की गई एवं विभिन्न योजनाओं के प्रस्ताव को स्वीकृति दी गई।

उपायुक्त श्री रंजन ने कहा कि DMFT की राशि को मूल प्राथमिकता क्षेत्र तथा अन्य प्राथमिकता क्षेत्र के कार्यों में खर्च किया जा सकता है।DMFT की 60 प्रतिशत राशि को मूल प्राथमिकता क्षेत्र जैसे स्वास्थ्य, शिक्षा, कौशल विकास, महिला एवं बाल कल्याण, पेयजलापूर्ति, बुजुर्ग एवं दिव्यांग कल्याण और पर्यावरण संरक्षण एयर प्रदूषण नियंत्रण की योजनाओं हेतु खर्च करने का प्रावधान है।

DMFT की शेष 40 प्रतिशत राशि से अन्य प्राथमिकता क्षेत्र के अंतर्गत फिजिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर, सिंचाई, ऊर्जा और वाटरशेड डेवलपमेंट और पर्यावरण गुणवत्ता को बढ़ाने हेतु कार्य कराया जा सकता है।

पाकुड़ जिला के प्रखंडों एवं नगर परिषद क्षेत्र से प्राप्त परियोजनाओं की सूची पर चर्चा एवं कार्यान्वयन हेतु निर्णय लेते हुए पारित किया गया। वही पाकुड़ समाहरणालय अवस्थित सभागार का सद्वढीकरण तथा सौदार्यीकरण कार्य को पारित किया गया। वित्तीय विषय बार डीएमफटी कोष में संग्रह राशि तथा मदवार व्यय की गई राशि की समीक्षा की गई।
सभी उपस्थित जनप्रतिनिधियों को अपने स्थानीय लोगों के विकास के लिए योजनाओं के चयन में आवश्यक सुझाव लिया गया।

बैठक के दौरान माननीय विधायक लिट्टीपाड़ा दिनेश विलियम मरांडी, उप विकास आयुक्त अनमोल कुमार सिंह, जिला परिषद अध्यक्ष बाबूधन मुर्मू, मुख्यालय डीएसपी वैद्यनाथ प्रसाद, पाकुड़ विधायक प्रतिनिधि गुलाम अहमद, महेशपुर विधायक प्रतिनिधि मो० अब्दुल वदुद, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी बीडीओ, सभी प्रखण्ड के प्रमुख, DMFT PMU के ऑफिसर एवं कर्मी तथा डीआरडीए के कर्मी उपस्थित थे