उपायुक्त ने समाज कल्याण व स्वास्थ्य विभाग के कार्यों का किया समीक्षा

पाकुड़ : शुक्रवार को समाहरणालय सभागार कक्ष में डीसी वरुण रंजन की अध्यक्षता में समाज कल्याण व स्वास्थ्य विभाग के कार्यो से संबंधित बैठक आयोजित की गई। इस दौरान टीकाकरण से अच्छादित होने वाली सेविका, सहायिका एवं पोषण सखी की अद्यतन स्थिति, आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से गर्भवती महिलाओं/धात्री महिलाओं एवं नवजात बच्चों को दी जाने वाली पोषाहार की जानकारी ली गई एवं पोषाहार को सुनियोजित तरीके से वितरण करने हेतु आवश्यक व उचित दिशा निर्देश दिया गया। इस दौरान उपायुक्त ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से वितरण किए जा रहे पोषाहार में राज्य आजीविका मिशन का भी सहयोग लिया जा रहा है। उन्होंने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को निदेशित किया कि आपसी समन्वय स्थापित करते हुए सुनियोजित तरीके से पोषाहार सामग्रियों की पैकेजिंग कर आंगनबाड़ी के माध्यम से लाभुकों के बीच वितरण करना सुनिश्चित करें। साथ ही इससे संबंधित रिपोर्टध्प्रगति प्रतिवेदन भेजना निश्चित रूप से सुनिश्चित करें। बैठक में उपायुक्त द्वारा पोषण सखी व समाज कल्याण में अन्य रिक्त पदों को शीघ्र भरने हेतु निदेशित किया गया। उपायुक्त ने कहा कि पोषण सखी से संबंधित रिक्तियों को भरने हेतु निर्धारित समयानुसार ग्राम सभा का आयोजन कर चयन समिति का गठन करें ताकि प्रखंड स्तरीय चयन समिति की बैठक के पश्चात चयन हेतु अनुमोदन प्रस्ताव भेजी जा सके एवं सभी रिक्तियों को जल्द से जल्द नियुक्ति की प्रक्रिया पूरी की जा सके।बैठक में उपायुक्त द्वारा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की प्रगति की समीक्षा की गई तथा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप प्राप्त लाभुकों की जानकारी ली गई तथा जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप लाभुकों की संख्या को शत-प्रतिशत कवर करने का निर्देश दिया गया। साथ ही इस योजना के तहत शेष लाभुकों के लंबित राशि का भुगतान करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया।इसके अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि समाज कल्याण द्वारा संचालित सभी क्रियाशील योजनाओं में एमपीआर सबमिशन करने में किसी भी प्रकार की अनियमितता/कोताही न बरतें। साथ ही समाज कल्याण अंतर्गत लंबित भुगतान में तेजी लाएं तथा सभी शेष लाभुकों को शीघ्र लाभान्वित करें। इसके अलावा उपायुक्त ने एमटीसी की समीक्षा की तथा सभी प्रखंडों के अद्यतन स्थिति की जानकारी ली तथा जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को आवश्यक निदेश दिया कि एमटीसी केंद्र में जितने भी बेड है सभी बेडो पर बच्चे की उपलब्धता सुनिश्चित किया जाना चाहिए। कोई भी बेड खाली नहीं रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी कुपोषित बच्चों को पूरी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि रूटीन वर्क को सही तरीके से करें। इसके साथ ही उपायुक्त ने पोषाहार की समीक्षा की तथा आवश्यक निदेश दिया। तथा पोषाहार ससमय उपलब्ध कराने का निदेश दिया।वहीं उपायुक्त वरुण रंजन की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग की समीक्षात्मक बैठक संपन्न हुई। बैठक में उपायुक्त के द्वारा कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिए किए जा रहे कार्य एवं विभाग द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली गई एवं सिविल सर्जन को योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन को लेकर निर्देशित किया गया। उपायुक्त ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग से संचालित योजनाओं तथा सेवाओं का लाभ अंतिम व्यक्ति तक पहुँचे। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में कोरोना संक्रमण के काल में स्वास्थ्य विभाग का दायित्व और बढ़ गया है। उन्होंने चिकित्सको एवं कर्मियों को पूरी कर्तव्य निष्ठा के साथ कार्य करने की बात कही। बैठक में मुख्य रूप से उप विकास आयुक्त अनमोल कुमार सिंह, सीएस डॉ रामदेव पासवान,जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ० चंदन, एसएमपीओ पवन कुमार जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी पाकुड़, सभी महिला पर्यवेक्षिका व अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे।