कोरोना संक्रमण के रोकथाम हेतु गठित विभिन्न कोषांगों द्वारा किए जा रहे कार्यों की उपायुक्त ने की समीक्षा

रामगढ़: कोरोना संक्रमण के रोकथाम एवं इसके उपचार हेतु रामगढ़ जिला अंतर्गत गठित विभिन्न कोषांगों द्वारा किए जा रहे कार्यों की मंगलवार को उपायुक्त संदीप सिंह ने ऑनलाइन मीटिंग सॉफ्टवेयर द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा की।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने सबसे पूर्व बेड मैनेजमेंट कोषांग के नोडल अधिकारी एवं अन्य अधिकारियों से रामगढ़ जिला अंतर्गत कोरोना मरीजों के उपचार हेतु चिन्हित अलग-अलग अस्पतालों में उपलब्ध बेडों की संख्या की जानकारी ली। इस दौरान उपायुक्त ने सभी अधिकारियों को नियमित रूप से अस्पताल संचालकों तथा नोडल चिकित्सकों के साथ संपर्क में रहने एवं रामगढ़ जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में स्थित अस्पतालों में नन ऑक्सीजन बेड, ऑक्सीजन बेड, वेंटिलेटर बेड आदि की रियल टाइम जानकारी अपडेट करने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान ऑक्सीजन प्रबंधन कोषांग के अधिकारियों को उपायुक्त ने प्रतिदिन कम से कम 2 बार सभी अस्पतालों के साथ संपर्क करने एवं उनके यहां उपलब्ध ऑक्सीजन की जानकारी लेने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उपायुक्त ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध हो, इसके साथ ही बफर स्टॉक भी मेंटेन किया जाए। उपायुक्त ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा तीव्र गति से अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड बढ़ाने का कार्य किया जा रहा है। जिसके बाद सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की खपत भी काफी बढ़ जाएगी इसी को ध्यान में रखते हुए सभी अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध कराना गंभीरता से लें।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने नोडल पदाधिकारी ट्रामा सेंटर एवं निजी अस्पतालों सह जिला मत्स्य पदाधिकारी से रामगढ़ के पटेल चौक स्थित ट्रामा सेंटर एवं अन्य निजी अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने वन प्रमंडल पदाधिकारी से ट्रामा सेंटर एवं अन्य निजी अस्पतालों में इस्तेमाल किए जा रहे स्वास्थ्य उपकरणों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि रामगढ़ शहर क्षेत्र में कोरोना मरीजों के उपचार हेतु ट्रामा सेंटर का संचालन सही तरीके से होना काफी आवश्यक है, इसलिए वहां ऑक्सीजन का बफर स्टॉक भी मेंटेन किया जाए एवं नियमित रूप से वहां मरीजों के उपचार हेतु हो रहे कार्यों की समीक्षा की जाए।

बैठक के दौरान उपायुक्त ने सीसीएल हॉस्पिटल रजरप्पा में मरीजों के उपचार हेतु हो रहे कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने सीसीएल अस्पताल रजरप्पा में सभी बेड पर ऑक्सीजन की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी, कार्यपालक दंडाधिकारी सह नजारत उप समाहर्ता, कार्यपालक दंडाधिकारी सह प्रभारी स्थापना शाखा, जिला जनसंपर्क पदाधिकारीज़ जिला मत्स्य पदाधिकारी, परियोजना निदेशक आत्मा, अंचल अधिकारी रामगढ़, अंचल अधिकारी चितरपुर, अंचल अधिकारी मांडू सहित अन्य उपस्थित थे।