उपायुक्त ने कि नशा मुक्त भारत अभियान की जिला स्तरीय समिति की बैठक, कई दिशानिर्देश हुए जारी

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपायुक्त राजेश सिंह ने सोमवार को नशा मुक्त भारत अभियान की जिला स्तरीय समिति की बैठक की। बैठक का संचालन जिला समाज कल्याण पदाधिकारी श्रीमती सुमन गुप्ता ने किया। श्रीमती गुप्ता ने अभियान के उद्देश्य व अब तक इस दिशा में किए गए कार्रवाई से उपायुक्त व समिति के अन्य सदस्यों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि सरकार के निर्देशानुसार जिला स्तरीय कमेटी का गठन कर लिया गया है।

बैठक में राज्य समन्वयक मनोज सिंह ने बताया कि नशा मुक्त समाज बनाने के लिए जिले के सभी स्कूलों, कालेजों, शिक्षण संस्थानों में छात्र – छात्राओं को नशे के दुष्प्रभाव एवं बुराइयों के बारे में जागरूक किया जाएगा। इसके लिए 50 मास्टर वोलेंटियर
तैयार किए जाएंगे। जो ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक करेंगे। इन मास्टर वोलेंटियरों को प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। इस पर उपायुक्त श्री सिंह ने समाज कल्याण एवं शिक्षा विभाग को आपस में समन्वय स्थापित कर मास्टर वोलेंटियर चिन्हित करने का निर्देश दिया। कहा कि इस कार्य को अविलंब पूरा कर उन्हें प्रशिक्षण दें।

वहीं, जिले में नशा उन्मूलन केंद्र स्थापित करने के लिए प्रस्ताव तैयार करने को सिविल सर्जन डा. अशोक कुमार पाठक को निर्देश दिया। उपायुक्त ने एसडीओ चास शशि प्रकाश को इसकी मानीटरिंग कर इस कार्य़ को पूरा करने को कहा। मौके पर उपस्थित गैर सरकारी संगठन अमर शंकर कल्याण केंद्र के प्रतिनिधि ने वर्ष 2013 से जिले में आइडीयू (इंजेक्टिंग ड्रग यूजर) के तहत किए गए कार्यों से समिति को अवगत कराया। वर्तमान में जिले में 405 केस है।

बैठक में उपायुक्त ने जिला शिक्षा पदाधिकारी श्रीमती नीलम आइलीन टोप्पो को विद्यालय के सौ मीटर तक सिगरेट आदि नशीले पदार्थ की बिक्री नहीं हो पुलिस प्रशासन के सहयोग से सुनिश्चित करेंगी। उन्होंने ऐसे स्थानों जहां नशीले पदार्थों की खरीद – बिक्री व सेवन हो रहा है उन्हें चिन्हित कर कानूनी कार्रवाई भी सुनीश्चित करने को कहा।

बैठक में मुख्यालय डीएसपी, एसडीओ चास, सीडीपीओ चास, आरईओ, एपीआरओ आदि उपस्थित थे।