रोक के बाबजूद मयूरहंड के नदियों से अवैध रुप से बालू का हो रहा उठाव, खनन विभाग के साथ जिम्मेवार हैं मौन

मयूरहंड(चतरा)। सरकार द्वारा बरसात को लेकर रोक लगाए जाने के बाबजूद मयूरहंड प्रखंड के बडकरीया नदी सोकी घाट से अवैध तरीके से बालू का उठाव बदस्तूर जारी है। वहीं प्रशासन अवैध बालू उठाव पर अंकुश लगाने में विफल साबित हो रही है। यही नही प्रखंड के सोकी, पेटादेरी व महुगांई नदी के बालू घाटों से अवैध बालू उठाव को लेकर बालू माफिया अधिक सक्रिय हैं। बालू माफियाओं के द्वारा प्रत्येक दिन उपरोक्त नदी घाटों से अवैध रूप से बालू उठाव कर बड़े पैमाने पर ट्रैक्टर से बालू आस-पास के गांव स्थित सुनसान जगहों पर भंडारण कर शाम होते हीं ट्रकों में भरकर दुसरे राज्यों व जिलों में लेजाकर उच्चे दामों में बेचे जाते हैं। वहीं सूत्रों की माने तो सबकुछ जानते हुए भी प्रखंड प्रशासन चुप्पी साधे हुए है। इस तरह से बरसात में नदियों से बालू उठाव के कारण सरकार को राजस्व के नुकसान के साथ नदियों के अस्तित्व पर भी खतरा मंडरा रहा है। दुसरी ओर बालू के अवैध उठाव पर रोकने को लेकर जिला प्रशासन की ओर से टास्क फोर्स का गठन कर नदियों से अवैध बालू उठाव करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने का फरमान जारी किया गया। इसके बावजूद प्रखंड के उपरोक्त नदी घाटों से बालू उठाव जारी है।