चक्रवाती तूफान यास के बुलंदी के बाबजूद सर्वे व जांच टीम घर-घर जाकर सर्वे का कार्य कर रही है

बोकारो से जय सिन्हा

बोकारो : कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए बोकारो ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य जांच अभियान चलाया जा रहा है। इसी बीच चक्रवाती तूफान यास भी बुलंदी पर है। इसके बावजूद जिले के जांच टीम घर-घर जाकर जांच कर रही है*। जांच टीम में शामिल सेविका, सहिया एवं महिला समूह की दीदी घर-घर जाकर संक्रमितों को तलाशने में कोई लापरवाही नहीं बरत रही है। यह टीम पिछले 25 मई, 2021 से जिले के सभी प्रखंडों के ग्रामीण क्षेत्रों में सर्वे व जांच दल अभियान चला रही है। सर्वे के साथ ही लोगों को कोविड नियमों के अनुपालन, वैक्सीनशन से जुड़ी जानकारियों का व्यापक प्रचार-प्रसार भी आंगनबाड़ी सेविका व सहायिका और दीदियों द्वारा किया जा रहा है।

■ जांच टीम द्वारा घर-घर जाकर लक्षण वाले मरीजों का चिकित्सीय जांच व रैपिड एंटीजन टेस्ट किया जा रहा है-
ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार के नियंत्रण व रोकथाम के लिए प्रत्येक पंचायत स्तर पर दो-दो दल गठित किए गए हैं। इनमें पहला दल संभावित कोविड संक्रमितों की पहचान का कार्य कर रहे है और दल के सदस्य सहिया व आंगनवाड़ी सेविका होंगे। साथ ही दूसरा दल रैट जांच दल के सदस्य एएनएम, सीएचओ, बीटीटी व सहिया होंगे। इसको लेकर सभी प्रखंडो में आंगनवाड़ी सेविका व सहयिकाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है। अभियान के दौरान सहिया, सेविका, सहायिका एवं पोषण सखी तथा जांच टीम द्वारा घर-घर जाकर लक्षण वाले मरीजों का चिकित्सीय जांच व रैपिड एंटीजन टेस्ट किया गया। लक्षण पाए जाने वाले व्यक्तियों को उपचार के लिए मेडिकल किट उपलब्ध करवाते हुए उन्हें होम आइसोलेशन से संबंधित सभी गाइडलाइन की जानकारी दी गई। जिन मरीजों के घरों में होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं है, उन्हें कोविड केयर सेंटरों में स्वास्थ्य सुविधा प्रदान की जा रही है। गंभीर लक्षण वाले संक्रमितों को कोविड अस्पतालों में रेफर किया जाएगा। अभियान के तहत सभी सहिया, आंगनबाड़ी सेविका व सहायिका, सखी मंडल के सदस्यों को घर-घर जाकर सर्वे व जांच करने के लिए प्रशिक्षित किया गया है। इसके लिए सभी को फेस मास्क, पीपीई किट, होम आइसोलेशन किट, पल्स ऑक्सीमीटर, हैंड सैनिटाइजर आदि उपलब्ध कराया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *