प्रधानमंत्री द्वारा सखी मंडल की आत्म निर्भर नारी शक्ति से किया गया सीधा संवाद

गोड्डा: गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आत्मनिर्भर नारी शक्ति तथा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिला स्वयं सहायता समूह के सदस्यों के साथ संवाद स्थापित किया।
प्रधानमंत्री के द्वारा ग्रामीण स्वयं सहायता समूह की उन सशक्त महिलाओं के साथ वार्तालाप की गई, जिन्होंने इस परियोजना से जुड़कर अपनी आजीविका में वृद्धि एवं समाज के विभिन्न क्षेत्रों में अपनी अलग पहचान बनाई है।
कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने स्वयं सहायता समूहों से जुड़ी महिलाओं की सफलता की कहानी एवं खेती की आजीविका पर एक पुस्तिका का भी विमोचन किया। इसके अलावा उनके द्वारा पीएमएफएमई (पीएम फॉर्मलाइजेशन ऑफ माइक्रो फूड प्रोसेसिंग एंटरप्राइसेज) के तहत आने वाले स्वयं सहायता समूहों को आरंभिक धनराशि जारी किया गया। यह खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय की एक योजना है। इसी तरह मिशन के तहत आने वाले एफपीओ ( किसान उत्पादक संगठनों)को धनराशि प्रदान किया गया।
गोड्डा जिले के 9 प्रखंड के 180 पंचायत के 39 सीएलएफ के जेएसएलपीएस प्रमोटेड 2090 स्वयं सहायता समूह की करीब 25600 महिलाओं के द्वारा इस कार्यक्रम में भाग लिया गया।इस कार्यक्रम में महिलाओं की अधिक से अधिक भागीदारी हेतु विभिन्न स्तरों जैसे प्रखंड कार्यालय, पंचायत भवन, ग्राम संगठन कार्यालय,सीएलएफ कार्यालय, समूह बैठक स्थल में कार्यक्रम आयोजित की गई। जहां उनके द्वारा टीवी, स्मार्ट फोन, टेबलेट, लैपटॉप के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा दिए गए संदेश को सुना गया।
मौके पर जेएसएलपीएस के संबंधित बीपीएम, बीएलएफसी, सीसी , एफटीसी, कैडर एवं वार्ड सदस्य उपस्थित हुए।
इसके आलावा सांसद आदर्श ग्राम योजना अंतर्गत बोहा ग्राम पंचायत में आयोजित पीएम संवाद कार्यक्रम में जेएसएलपीएस के डीपीएम राहुल रंजन और जिला समन्वयक, सांसद आदर्श ग्राम योजना संतोष कुमार भी उपस्थित हुए ।