विस्थापित–गरीब सभी बनेंगे विकास का हिस्सा : उपायुक्त

बोकारो से जय सिन्हा

बोकारो: समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में गुरुवार को माननीय विधायक बोकारो श्री बिरंची नारायण ने उपायुक्त से मूलाकात की। उनके साथ विस्थापित क्षेत्रों के प्रतिनिधि, स्थानीय जन प्रतिनिधि एवं विस्थापित परिवारों के कुछ सदस्य उपस्थित थे। माननीय विधायक ने उपायुक्त से कहा कि 24 जून को स्थानीय एक हिंदी दैनिक अखबार ने बोकारो संयत्र का होगा विस्तार 19 गांव होंगे खाली नामक शीर्षक से एक समाचार प्रकाशित किया था। जिसके बाद उत्तरी बोकारो के 19 गांवों के साथ – साथ संपूर्ण विस्थापित गांवों में भ्रम की स्थिति उत्पन्न हो गई है। उन्होंने कहा कि वह सभी प्लांट के विस्तारीकरण का समर्थन करते हैं। लेकिन, विस्थापित क्षेत्र के लोगों के पूर्नावास, लंबित मुआवजा का भुगतान एवं नौकरी आदि मुहैया कराया जाए। माननीय विधायक ने कहा कि खाली स्थानों से प्लांट विस्तारीकरण का कार्य किया जाए। इस बाबत उन्होंने उपायुक्त को एक ज्ञापन भी सौंपा।

इस पर उपायुक्त राजेश सिंह ने कहा कि जिला प्रशासन गंभीरता से सभी बिंदुओं पर काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन वंचित विस्थापितों/गरीबों को नियम के तहत हर संभव सहायता मुहैया कराने को प्रतिबद्ध है। हर विस्थापित/गरीब बनेंगे विकास का हिस्सा। उन्होंने किसी भी तरह की अफवाह पर ध्यान नहीं देने की बात कहीं।

मौके पर माननीय विधायक बिंरची नारायण ने अपने विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत विस्थापित गांवों को पंचायत में शामिल करने की मांग उपायुक्त राजेश सिंह से की। कहा कि पूर्व की सरकार ने इस दिशा में कवायद शुरू की थी, इस दिशा में कई कार्य भी हुए हैं। बताया कि उत्तरी एवं दक्षिणी विस्थापित क्षेत्र के 22 गांवों को पंचायत में शामिल करने की प्रक्रिया प्रारंभ की गई थी। सर्वेक्षण एवं परिसीमन का कार्य किया गया था। इस बाबत माननीय विधायक ने उपायुक्त को एक ज्ञापन भी सौंपा।

इस अवसर पर एसडीओ चास श्री शशि प्रकाश सिंह, विशेष कार्य पदाधिकारी शम विवेक कुमार सुमन, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी अविनाश कुमार सिंह, त्रिभुवन सिंह समेत अन्य उपस्थित थे।