आवश्यक दवाओं की कालाबाजारी एवं निजी अस्पतालों पर निगरानी रखे जिला प्रशासन : भुवनेश्वर

हजारीबाग:  भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव हजारीबाग के पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता बयान जारी कर कहा कि ,हजारीबाग में कोविड-19 कोरोना महामारी में दवा दुकानदारों एवं अस्पतालों के द्वारा अवसर तलाशा जा रहा है, पूरे देश में राजनीतिक एवं सामाजिक संगठनों के लोग महामारी से निपटने के लिए हर तरह के प्रयास कर रहे हैं, तो वही हजारीबाग में दवा दुकानदारों एवं निजी अस्पतालों में बड़े पैमाने पर मनमानी की जा रही है, दवा दुकानों में जरूरी की दवाओं की किल्लत बतला कर मनमानी वसूली की जा रही है। उसी तरह से निजी अस्पतालों में भी इलाज के लिए मनमानी वसूली हो रही है। इतना ही नहीं बल्कि कोरोना पेशेंट को इधर उधर ले जाने में एंबुलेंस सेवा में भी काफी रुपए वसुली की जा रही है । एक तरफ बीमारी से लोग परेशान हैं ,तो दूसरी तरफ जमाखोरी और महंगाई से आम जनता में आक्रोश है। राज्य सरकार आवश्यक वस्तुओं की जमाखोरी, मनमानी राशि की वसूली, दवा दुकानदारों एवं अस्पतालों पर निगरानी पूरे राज्य में की जा रही है। हजारीबाग जिला प्रशासन को इसे कड़ाई से पालन करना चाहिए और जगह जगह पर छापामारी कर मनमानी पर रोक लगानी चाहिए। हजारीबाग की आरोग्यम अस्पताल जिला के सबसे महंगा अस्पताल है। लेकिन सबसे ज्यादा कोरोना का शव उसी अस्पताल से निकल रहा है । कल एक लड़का अपने पिता के शव के लिए गिड गीडाता रहा ,जब सोशल मीडिया का सहारा लिया तब उसे शव सौंपा गया। हजारीबाग की कई पत्रकार एवं कई लोग इलाज रत है। अस्पताल के मनमानी के कारण एवं उचित रख-रखाव नहीं रहने से लोगों की जाने जा रही है। इसीलिए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी जिला प्रशासन से मांग करती है कि पूरे जिले में निगरानी की जाए एवं मनमानी करने वाले दुकानों और अस्पतालों पर कार्रवाई की जाए । सभी तरह के आवश्यक वस्तुओं एवं जरूरत की दवाओं की आपूर्ति सुलभ किया जाये। इस महामारी से आम जनता को जीना दूभर हो गया है। सरकार को बड़े पैमाने पर राहत कार्य चलाना चाहिए।
केंद्र सरकार इस महामारी से निपटने में विफल साबित हुआ । पूरे देश में कोहराम मचा हुआ है। केंद्र सरकार की मनमानी रवैया के कारण आम जनता परेशान है। सरकार चाहती तो डेढ़ साल की समय बीमारी से निपटने के लिए कम नहीं था । अब तो दूसरी लहर पीक पर आने वाली है। और तीसरी लहर का भी मुकाबला करना होगा । लेकिन अभी तक सरकार इसकी तैयारी नहीं कर सकी । आम जनता के लाश पर भारतीय जनता पार्टी शासन करना चाहती है। इसे जनता धीरे-धीरे नकार रही है । जिला प्रशासन अभिलंब हजारीबाग में दवाओं एवं जरूरत के सामानों की आपूर्ति सुलभ कराए। उक्त जानकारी इसकी जानकारी भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी राज्य के सहायक सचिव महेंद्र पाठक ने दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *