उपायुक्त के अध्यक्षता में हुई डीएमएफटी शासी समिति की बैठक, मंत्री व विधायक हुए शामिल

लिए गए कई महत्वपूर्ण निर्णय
चतरा। समाहरणालय स्थित सभा कक्ष में उपायुक्त सह अध्यक्ष दिव्यांशु झा की अध्यक्षता में 25 मई को जिला खनिज फाउण्डेशन ट्रस्ट (डीएमएफटी) के शासी समिति की बैठक की हुई। बैठक में समिति के सभी सदस्य उपस्थित हुए। उपायुक्त द्वारा सभी सदस्यों को डीएमएफटी मद से किए जाने वाले कार्यों की जानकारी देते हुए सदस्यों से सहमति एवं सुझाव देने को कहा। कोविड माहमारी को ध्यान में रखते हुए डीएमएफटी मद से स्वास्थ्य संबंधित व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करने पर जोर देते हुए ग्राम सभा से अनुमोदन के पश्चात बनाए गए योजनाओं में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र टंडवा व हंटरगंज का जीर्णोद्धार, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र टंडवा व इटखोरी में ट्रॉमा सेंटर, इटखोरी एवं गिद्धौर पीएचसी में पाइप लाइन इंस्टालेशन, क्लीनिकल बेड, मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र जीर्णोद्धार, मेडिकल स्टाफ नियुक्ति, 5 अतिरिक्त कोल्ड चेन, 3 माल न्यूट्रिशन ट्रीटमेंट सेंटर, गिद्धौर में पीआईसीयू निर्माण, टंडवा प्रखंड में बढ़ते धूल एवं पॉल्युशन के रोकथाम के लिए सफाई वाहन की व्यवस्था समेत अन्य की प्रेजेंटेशन के माध्यम से उपायुक्त द्वारा सभी सदस्यों के साथ साझा किया गया। जिसके पश्चात जन प्रतिनिधियों ने जिला प्रशासन द्वारा कोरोना के रोकथाम किए जा रहे कार्यों की सराहना की और एक-एक कर अपने-अपने विचार एवं सुझाव व्यक्त किए। सांसद सुनील कुमार सिंह, बड़कागांव विधायक अंबा प्रसाद व सिमरिया विधायक किसुन कुमार दास आॅनलाईन बैठक में शामिल हुए। चतरा सदर अस्पताल में 24×7 शिफ्ट के आधार पर मेडिकल टीम की प्रतिनियुक्त करने, आंगनबाड़ी केंद्रों पर महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए सेनेटरी नैपकिन मशीन लगाने समेत अन्य महत्वपूर्ण प्रस्ताव दिए गए। श्रम नियोजन प्रशिक्षण एवं कौशल विकास विभाग के मंत्री सह चतरा विधायक सत्यानंद भोक्ता ने भी कई महत्वपूर्ण सुझाव एवं प्रस्ताव रखे। बैठक में सभी जनप्रतिनिधियों ने जिला प्रशासन को कोविड-19 को लेकर कार्य में हर संभव सहयोग करने का भरोसा दिया। बैठक में जुड़ने हेतु उपायुक्त ने सभी जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया। बैठक में सभी प्रस्तावों को सर्वसम्मति से पारित किया गया। बैठक में एसपी ऋषव कुमार झा, डीडीसी सुनील कुमार सिंह समेत अन्य संबंधित शामिल थे।