आखिरकार जिंदगी की जंग हार गए डॉक्टर अमित कुमार महतो

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: पिछले एक माह से डॉ अमित महतो टीएमएच जमशेदपुर में इलाजरत थे। लेकिन अब वे जिंदगी की जंग हार गए. डॉ अमित कुमार महतो सिर्फ डॉक्टर की भूमिका में ही नहीं थे. बल्कि एक समाजवादी विचारधारा के शख्सियत के रूप में भी जाने जाते है. वे काफी कम समय में ही समाज में एक सकारात्मक छाप बनाते हुये निस्वार्थ सेवा कार्य किया और झारखंड में एक अपनी पहचान बना चुके थे। लगातार ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर नि:शुल्क सेवा दिया. उन्होंने कोरोना के पहले चरण में नि:शुल्क सेवा दिये . द्वितीय चरण में भी लोगों के सेवा में लगे थे. लेकिन इस बार कोरोना के शिकार हो गये. फिलहाल कोरोना से जंग जीत कर पॉजिटिव से नेगेटिव हो गये थे. लेकिन उसके फेफड़ों में इंफेक्शन होने के कारण पिछले कुछ दिनों से गंभीर स्थिति बनी हुई थी. इस दौरान आज बुधवार सुबह करीब 7 बजे उन्होंने टीएमएच में अंतिम सांस ली. झारखंड के सरायकेला-खरसावां जिला के राजाबासा गांव के रहने वाले थे डॉ अमित महतो. डॉक्टर अमित कुमार महतो को विनम्र श्रद्धांजलि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *