कोरोना के टीके से न घबराएं, अपनी बारी आने पर निर्भीक होकर टीका लगवाएं: उपायुक्त

उपायुक्त गुमला ने त्रिदिवसीय विशेष साप्ताहांत गहन टीकाकरण अभियान के द्वितीय चरण के तहत पालकोट प्रखंड के कोलेंग, सेमरा एवं बागेसेरा पंचायतों का किया भ्रमण
गुमला: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार के नियंत्रण एवं रोकथाम के मद्देनजर गुमला जिलांतर्गत विशेष साप्ताहांत गहन टीकाकरण अभियान माह के प्रत्येक साप्ताहांत आयोजित किया जा रहा है। इसी के तहत आज अभियान के दूसरे दिन उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा ने पालकोट प्रखंडांतर्गत कोलेंग पांचायत के गुड़मा ग्राम, सेमरा पंचायत के सड़कटोली ग्राम तथा बागेसेरा पंचायत के मलई ग्रामों का भ्रमण किया।
उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा ने पालकोट प्रखंड के कोलेंग पंचायत के गुड़मा ग्राम स्थित कोविड टीकाकरण केंद्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में टीकाकरण केंद्र पर अधिक संख्या में 18 प्लस एवं 45 प्लस लाभार्थियों की संख्या पाई गई। मौके पर उपायुक्त ने सभी लाभार्थियों से बेहिचक एवं निःसंकोच टीका लगवाने हेतु प्रेरित किया। साथ ही उन्होंने टीकाकृत लाभार्थियों से अपने-अपने परिवार के सदस्यों, मित्रों एवं आसपास रहने वाले लोगों को भी अपना टीकाकरण सुनिश्चित करने हेतु उत्प्रेरित करने की अपील की। उन्होंने टीके के प्रति फैलने वाली भ्रांतियों पर अंकुश लगाते हुए लोगों से इन अफवाहों एवं भ्रांतियों पर विश्वास न करने की अपील की।
उपायुक्त ने सेमरा पंचायत के सड़कटोली ग्राम स्थित राजकीयकृत उत्क्रमित मध्य विद्यालय में संचालित कोविड टीकाकरण केंद्र का निरीक्षण किया। केंद्र पर जेएसएलपीएस के बीआरपी, आंगनबाड़ी सेविका/ सहायिका, एएनएम नर्स/ सहिया उपस्थित पाए गए। उपायुक्त ने 18 प्लस एवं 45 प्लस के टीकाकृत लाभार्थियों की जानकारी प्राप्त की। बताया गया कि टीकाकरण केंद्र पर 18 वर्ष से 44 वर्ष के 21 लाभार्थियों तथा 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के 10 कुल 31 लाभार्थियों को टीका लगाया गया है। उपायुक्त ने अधिक से अधिक व्यक्तियों का टीकाकरण सुनिश्चित करने पर बल दिया।_*
उपायुक्त ने बागेसेरा पंचायत के मलई ग्राम पहुंचकर ग्रामीणों से वार्तालाप किया। मलई ग्राम के ग्रामीणों में टीकाकरण को लेकर कई भ्रांतियां देखी गई। उपायुक्त ने इन भ्रांतियों को निराधार बताते हुए ग्रामीणों से इन अफवाहों पर भरोसा न करने तथा अपने साथ-साथ अपने परिवार के सदस्यों को भी टीका लेने हेतु प्रेरित करने की अपील की। उन्होंने बताया कि कोविड-19 का टीका पूरी तरह सुरक्षित एवं कारगर है। मैंने स्वयं टीके का दोनों डोज लगवाया है और स्वस्थ हूँ। टीके से शरीर पर किसी भी प्रकार का दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। टीका लेने के पश्चात् हल्का बुखार आना, टीके वाले स्थान पर अथवा मांसपेशियों में हल्का दर्द होना सामान्य है। इन बातों से न घबराएं व अविलंब अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्रों पर जाकर अपना टीकाकरण अवश्य करवाएं। कोविड का टीका रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हुए आपको संक्रमण से बचाने में कारगर है, इसलिए बेफिक्र होकर टीका लगवाएं। उन्होंने टीकाकरण के कार्य में संलग्न एएनएम, सहिया आदि को भरपूर सहयोग करने पर भी जोर दिया। साथ ही उन्होंने सभी 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लाभार्थियों को टीका लेने के पूर्व एएनएम द्वारा थर्मल गन से तापमान की जाँच एवं स्वास्थ्य जाँच करने के पश्चात् ही टीका लगाने की बात कही। उन्होंने टीके के उपरान्त लाभार्थियों को पारासीटामोल आदि दवाएं भी उपलब्ध कराने का निर्देश एएनएम/ सहिया को दिया। उन्होंने युवा वर्ग एवं महिलाओं को भी टीकाकरण अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। वहीं उन्होंने आमजनों को टीका लेने के पश्चात् मास्क पहनने, सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने तथा निरंतर साबुन-पानी से हाथ धोने की सलाह दी। इसके अलावा उपायुक्त ने ग्रामीणों के व्यक्तिगत एवं सामूहिक जनसमस्याओं की जानकारी प्राप्त कर उनके त्वरित निष्पादन हेतु आश्वासन दिया।
उपस्थिति
उपायुक्त के भ्रमण के दौरान अनुमंडल पदाधिकारी बसिया संजय पी.एम. कुजूर, जिला सहकारिता पदाधिकारी कुमोद कुमार, पालकोट प्रखंड विकास पदाधिकारी विभूति मंडल व अन्य मौजूद थे।