दहेज मुक्त झारखंड संस्था ने घरेलू हिंसा, दहेज प्रथा पर महिलाओं को जागरूक किया

हजारीबाग: दहेज मुक्त झारखंड संस्था के द्वारा कटकमदाग प्रखंड के सुल्ताना पंचायत भवन में महिलाओं के प्रति घरेलू हिंसा,दहेज प्रथा,उत्पीड़न और बालात्कार पर जागरूकता अभियान चलाया गया,कार्यक्रम के मुख्य अतिथि संस्था के राष्ट्रीय संस्थापक डॉ आनन्द कुमार शाही थे,जिला महासचिव सुनीता झा के द्वारा महिलाओं को कैसे घरेलू हिंसा से बचना है,हिंसा के खिलाफ आवाज कैसे उठाना है इन सभी बातों पर चर्चा किये,वही संस्था के संस्थापक डॉ आनन्द शाही जी ने महिलाओं एवं लड़कियों को दहेज प्रथा कैसे रुके ,उत्पीड़न और प्रताड़ना कैसे रोका जाए इन सभी बातों पर जागरूकता फैलाया गया,संस्था की प्रवक्ता दिब्या दुबे जी ने भी अपनी बिचार रखी उन्होंने कहा की महिलाओं का समाज मे क्या क्या अधिकार है ,अपने अधिकार के लिए आप कैसे लड़ सकती है,इसके लिए कानून ब्यवस्था बनाया गया है,वही संस्था के कार्यकारी अध्यक्ष पूजा कुमारी के द्वारा बताया गया की संस्था आज दो बर्षो से दहेज प्रथा पर उत्पीड़न महिलाओं के बीच कार्य कर रही है,अब तक संस्था के द्वारा हज़ारो महिलाओं को न्याय दिलाया गया है,उन्हीने यह संदेश दिया की जब भी किसी महिला,बहु,बेटी का उत्पीड़न,हिंसा की शिकार है तो सीधे संस्था से सम्पर्क करें हमलोग हर स्तर से मदद करेंगे । संस्था की जिला सचिव सिमरन जी ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा की समाज मे सर नीचे करके जीने का समय नही है,आज हम महिलाएं पूरे विश्व मे पुरुषों से कम नही है,हर क्षेत्र में लड़कियां आगे है,जहाज चलाने से लेकर बंदूक चलाने तक का कार्य कर रही है ।

संस्था बिना दहेज के शादी करने वाले जोड़ो को सम्मानित करती है

संस्था के रास्ट्रीय अध्यक्ष बिजय प्रसाद जी ने अभियान चलाया है वैसे बिवाहित जोड़ी जो बिना दहेज के शादी करते है उनको हमलोग संस्था का सर्टिफिकेट एवं मेडल देकर सम्मानित करते है,अब तक कई जोड़ो को सम्मानित करते आ रहे है । इस जागरूकता कार्यक्रम में डॉ आनन्द शाही,सुनीता झा,दिब्या दुबे,पूजा कुमारी,सिमरन जी,रिजु प्रवीन, अखिलेश राय,शहिदा खातून,शकुन्तला देवी ,पुनम देवी ,पुष्पा कुमारी,अनिमा देवी ,शिखा कुमारी वर्मा,किरण देवीइ,निलम सींह पींकी,जया,पुजा अन्य सभी मौजूद थे ।