डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि को बलिदान दिवस के रूप में मनाया गया

कोडरमा से मनोज कुमार झुन्नू की रिपोर्ट

कोडरमा। भारतीय जनता पार्टी कोडरमा प्रखंड के झुमरी पंचायत अंतर्गत अनंत गंगा ज्ञान पीठ में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि को बलिदान दिवस के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष दिनेश कुमार सिंह एवं संचालन महामंत्री मुकेश मंडल ने की। कार्यक्रम में प्रभारी के रूप में जिला मंत्री एवं पूर्व 20 सूत्री अध्यक्ष कोडरमा सदर बैजनाथ यादव तथा मुख्य अतिथि जिला उपाध्यक्ष जूही दास गुप्ता उपस्थित हुई। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रखंड अध्यक्ष दिनेश कुमार सिंह ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी कांग्रेस की तत्कालीन प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने, जो तुष्टीकरण की नीति अपनाई इससे देश की एकता एवं अखंडता खतरे में था, इससे प्रभावित होकर मंत्रिमंडल से इस्तीफा देकर जनसंघ की स्थापना की। उनके बलिदान को हम भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता बेकार नहीं जाने देंगे। वहीं प्रखंड प्रभारी बैजनाथ यादव ने कहा कि श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने जिस सपनों को संजोया था की एक राष्ट्र में दो प्रधान दो निशान नहीं चलेगा इसको लेकर उन्होंने अपने प्राणों की आहुति दी। इसको देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर में धारा 370 की समाप्ति कर सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि जूही दास गुप्ता ने कहा कि देश की अखंडता के लिए उनकी बलिदान को भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता बेकार नही जाने देंगे। इस मौके पर भगवान दास, साहू दीप नारायण सिंह, मुंशी यादव, राजकुमार यादव, मनोज यादव, सुनील पंडित, प्रकाश पांडे, गीता देवी, गंगोत्री देवी, मुन्ना देवी, महेश यादव, अजय प्रसाद यादव, पिंटू पंडित, रोहित कुमार नकुल यादव, दिनेश शर्मा, महादेव यादव आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।