डीसीपीओ ने गिद्धौर में किया होटलों का निरीक्षण

गिद्धौर(चतरा)। जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी अरुणा प्रसाद द्वारा पुलिस टीम के साथ गिद्धौर प्रखंड मुख्यालय में संचालीत होटलों का निरीक्षण 15 सितंबर को किया गया। होटलों में डीसीपीओ के द्वारा बाल मजदूरी उन्मुलन के तहत बाल मजदूरों के मुकती को लेकर निरीक्षण किया गया। लेकिन मुख्यालय में संचालीत होटलों में बाल मजदूर नही मिले। इस दौरान होटल संचालकों को बाल मजदूर से काम नही कराने का निर्देश दिया गया। साथ ही मेन चैक में ग्रामीणों को बाल मजदूर, बाल व्यपार, बाल यौन शोषण करने सहित किसी तरह की जानकारी मिलने पर 1098 पर, या फिर थाना में भी बाल कल्याण पदाधिकारी व जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी को सूचना देने ने की बात कही। बताया गया कि बाल श्रम करवाते पकड़े जाने पर 20 से 50 हजार तक का जुर्माना व 6 माह का जेल या फिर दोनों भी हो सकता है।