मजदूरों की चट्टानी एकता के कारण एचईसी को बचाने एवं एचईसी में स्थाई सीएमडी को लेकर दिल्ली में बैठक शुरू हो गई है : बृजेश

रांची: एचईसी मजदूर संघ का 8 अक्टूबर 2021 को भी लगातार छठवां दिन प्रबंधन के खिलाफ आंदोलन जारी रहा। जिसका परिणाम रांची से लेकर केंद्र तक हलचल पैदा हो गई है। भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश संगठन मंत्री बृजेश कुमार ने सभा को संबोधित करते हुए सैकड़ों मजदूरों के बीच कहा मजदूरों की चट्टानी एकता के कारण एचईसी को बचाने एवं एचईसी में स्थाई सीएमडी को लेकर दिल्ली में बैठक शुरू हो गई है। जिसका परिणाम देखने को जल्द मिलेगा। संघ के महामंत्री रमा शंकर प्रसाद ने प्रबंधन को कड़े शब्दों में कहा वेतन के लिए बैठक करने की जरूरत नहीं है, अगर प्रबंधन को बैठक करना है तो पे रिवीजन पर बैठक करें, वेतन तो हर हाल में देना ही होगा। संघ के अध्यक्ष जीतू लोहरा ने मंच से प्रबंधन को कहा की दुर्गा पूजा से पहले 6 माह का वेतन एकमुश्त भुगतान करें और दीपावली से पहले बोनस भुगतान करें। सचिव विकास कुमार तिवारी ने अपने मजदूर भाईयो से अपील करते हुए कहा यह हक पसीने की कमाई को लेने के लिए अपनी चट्टानी एकता को बनाए रखे। और यह आंदोलन कल भी दोपहर 1 बजे से प्रबंधन के खिलाफ जारी रहेगी।
सभा में उपस्थित संघ के उपाध्यक्ष सुनील कुमार पांडे, रविकांत, कार्यकारणी अध्यक्ष बसंत पलाई, संघ के सचिव विकास कुमार तिवारी प्लांट सचिव खुर्शीद आलम, नरेश राम, संजय कुमार सिंह, राजेश कुमार सिंह, शायुन बागे, सुनील कुमार, सरोज कुमार, संजय कुमार, यशवंत कुमार, मनोज कुमार, शैलेश कुमार उर्फ दीपू, अशोक पांडे, जितेंद्र सिंह, कृष्ण मुरारी राय,सोमरा उरांव, यूसुफ अंसारी, दिलवर पूर्ति, डी भट्टाचार, राजू, एमडी नईम, राजेश कुमार, अर्जुन कुमार, सुधीर कुमार, रंजित कुमार, प्रमोद कुमार, एस के मिश्रा, रमेश गोप, फूलचंद, विजय चंद्र, संजय सिंह, तूफान बड़ाइक, झींगा मुंडा, गोबिंदा, आनंद सिंह, प्रभाकर, अनिल सिंह, एवं सैकड़ों मजदूरों ने अपनी मांग को लेकर डटे रहे और सभी एक होकर अपनी बुलंद आवाज के साथ नारे बाजी किया।