नीमा के बागी तालाब की मर रही मछलियां, तालाब के पानी जांच की मांग

चौपारण संवाददाता

चौपारण (हजारीबाग) : प्रखण्ड के दैहर पंचायत के ग्राम नीमा के बागी तालाब में डाली गई मछलियां इन दिनों मर रही है। मछलियों के अचानक मरने का कारण पता नहीं चल पा रहा है। इसलिए ग्रामीण संजीव कुमार दांगी सहित ग्रामीणों द्वारा तालाब के पानी के पानी जांच कराना चाह रहे हैं। पर प्रखण्ड में पानी जांच का कोई लैब नहीं रहने के कारण वे जांच नहीं करवा नहीं करवा पा रहे हैं। संजीव ने बताया कि पिछले तीन से चार वर्षी से तालाब में मछली का बिया डालने के 15 – 20 दिन के बाद सभी मछलियां मरने लगती है। इस वर्ष गांव के ही दिलीप डांगी, अर्जुन राणा और अमरनाथ दांगी द्वारा पन्द्रह दिन पूर्व तालाब में मछली का बिया डाला गया था। और अब तालाब की मछलियां मरकर छपिल जा रही है। मछलियों के मर जाने से बहुत ज्यादा दुर्गंध निकल रहा है। और बीमारी फैलने का डर लोगों को सताने लगा है।