शिक्षा विभाग के वेबिनार में शामिल हुए उपायुक्त, ऑनलाइन शिक्षा एवं कोविड-19 पर दिए आवश्यक निर्देश

चतरा। जिला शिक्षा अधीक्षक जितेन्द्र सिन्हा के निर्देश पर बीईईओ इटखोरी अरविंद प्रसाद के द्वारा 10 मई को वेबिनार का आयोजन किया गया। जिसमें उपायुक्त दिव्यांशु झा ने भी जूम एप्प के माध्यम से जुड़ ऑनलाइन शिक्षण एवं कोविड-19 को लेकर हो रहे वेक्सीनेसन समेत अन्य विषयों पर शिक्षा विभाग के सभी प्रतिभागियों को महत्वपूर्ण बातें बताई एवं आवश्यक निर्देश दिए। वेबिनार में इटखोरी, मयूरहंड, गिद्धौर, पत्थलगड़ा, सिमरिया, चतरा, हंटरगंज एवं कान्हाचट्टी के कुल 1000 प्रतिभागी शामिल रहे। उपायुक्त द्वारा कोविड-19 संक्रमण के मद्देनजर ऑनलाइन शिक्षण पर जोर देने एवं अच्छे से संचालन करने का निर्देश दिया। वहीं कोविड-19 के दौर में शिक्षकों, बीईईओ, सीआरपी, बीआरपी एवं बीपीओ समेत अन्य के कार्य करने, बचाव हेतु उपाय, वेक्सीनेसन की गति में तीव्रता लाने एवं इसके विरुद्ध कतिपय तत्वों के द्वारा किये जा रहे दुष्प्रचार को रोकने और संबन्धित के विरुद्ध नियम संगत कार्रवाई आदि तथ्यों की विस्तृत जानकारी देते हुए शिक्षा विभाग एवं शिक्षकों के कार्यों के प्रति विश्वास व्यक्त किया। इसके पश्चात वेबिनार का संचालन करते हुए प्रखण्ड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी ने बैठक के सभी एजेंडों यथा डीजी साथी 2.0  के अंतर्गत कोविड-19 के दौर में वर्गवार वाटसेप ग्रुप का निर्माण कर आॅनलाइन वर्ग संचालन ही एक मात्र उपाय बताते हुए कार्य करने की बात कही। एजेंडों में पुष्टीकरण फॉर्म का नियमित भरा जाना, सीआरसी स्तर पर आॅन लाइन बैठक प्रत्येक वृहस्पतिवार को आयोजित करने, शैक्षणिक सत्र 2021-22 में नव नामांकन एवं वर्ग प्रोन्नति से संबन्धित सभी विंदुओं को स्पष्ट करते हुए आॅन लाइन अथवा ड्राॅप बाॅक्स  के माध्यम से सौ प्रतिशत नामांकन सुनिश्चित करने, मुख्यमंत्री विशेष छात्रवृति योजना अंतर्गत सामान्य कोटि के छात्र, छात्राओं की सूची विहित प्रपत्र में दिनांक 11 मई तक अनिवार्य रूप से भेजने, शिक्षकों को प्रेरित करने, सभी प्रखंडों के एक अच्छे शिक्षक एवं एक कार्य के प्रति गंभीर नहीं रहने वाले शिक्षक से बात करने, मध्याह्न भोजन अंतर्गत प्रतिपूर्ति भत्ता वितरण करने आदि पर विस्तृत चर्चा एवं जानकारी दिया गया। साथ ही पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी साप्ताहीक क्विज प्रतियोगिता में जिला को राज्य में लगातार 5 बार से अधिक प्रथम स्थान लाने हेतु शिक्षकों को प्रेरित किया गया एवं इसके उपायों की जानकारी दी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *