एक दिवसीय कार्यशाला का हुआ आयोजन

पाकुड़: सदर प्रखंड परिसर स्थित ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान(आरसेटी) पाकुड़ में नाबार्ड ने गैर सरकारी संगठनों की कार्यक्षमता संवर्द्धन के लिए एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया।कार्यशाला का उद्घाटन जिला अग्रणी प्रबंधक श्री मनोज कुमार, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड, साहिबगंज व पाकुड़ नेयाज इशरत एवं निदेशक आरसेटी,पाकुड़ श्री फूलजेंस तिग्गा ने संयुक्त रूप से किया।कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला अग्रणी प्रबंधक श्री मनोज कुमार ने कहा कि देश का विकास में गैर सरकारी संगठनों का महत्वपूर्ण योगदान है।अतः इनके कार्यकुशलता में समय समय पर संवर्द्धन करना चाहिए।
जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड, नेयाज इशरत ने कहा कि एनजीओ की कार्य कुशलता को बढ़ाने के लिए नाबार्ड समय समय विभिन्न कार्यशाला का आयोजन करती हैं।आज के इस कार्यशाला में विभिन्न एनजीओ के अधिकारी व कर्मचारियों को विकस के विभिन्न पहलुओं की जानकारी दी गई।नाबार्ड द्वारा चलाये जा रहे विभिन्न योजनाओं से अवगत कराया गया।उन्होंने
पीपीटी के माध्यम से अनुदान स्कीम के बारे में जानकारी दी।जिले में डेयरी एवं मत्स्य पालन की अपार संभावनाएं है।अतः इस पर हमें कार्य करने की जरूरत है।उन्होंने भारत सरकार की महत्वपूर्ण योजना अग्रि इंफ्रास्ट्रक्चर फण्ड के प्रचार प्रसार के लिए प्रगतिशील किसान, स्वयं सहायता समूह, कृषि उद्यमियों के बीच सम्पूर्ण जिले में एनजीओ द्वारा किये जाने पर बल दिए।
आरसेटी के निदेशक फूलजेंस तिग्गा ने कहा कि लाभुकों को आरसेटी के माध्यम से विभिन्न कौशल प्रशिक्षण दिया जाता हैं,ताकि युवाओं को रोजगार प्राप्त करने में कोई परेशानी ना हो।कार्यालय में विभिन्न एनजीओ रियेक्ट, आशा, झारखंड विकास परिषद,ग्रामीण विकास केंद्र, स्मार्ट, सृस्टि, कल्याण विकास संस्थान आदि के अधिकारी व कर्मचारी मौजूद रहे।