एक माह बाद गुलजार हुए सरकारी व गैरसरकारी दफ्तर

चतरा। 20 अप्रैल से लगभग एक महीने के बाद सरकारी और गैरसरकारी कार्यालय गुलजार नजर आए। हालांकि कार्यालयों में सामान्य दिनों की तरह भीड़ बिल्कुल नहीं है। रोस्टर के हिसाब से कर्मचारी एवं अनुसेवक आ रहे हैं। कार्यालय के भीतर आम लोगों को जाने पर रोक है। बहुत आवश्यक कार्य पर ही उन्हें प्रवेश दिया जा रहा है। डीसी ऑफिस के सभी शाखाओं में काम शुरू हो चुका है। हालांकि डीसी ऑफिस, अपर समाहर्ता कार्यालय, नजारत, खाद्य आपूर्ति, अनुमंडल कार्यालय, नगर परिषद कार्यालय कभी बंद नहीं हुए। विकास भवन, परिवहन विभाग, ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल, ग्रामीण विकास कार्य विभाग, जिला परिषद, प्रखंड एवं अंचल कार्यालय तथा अन्य दूसरे दफ्तर 24 मार्च से राष्ट्रीय व्यापी लॉक डाउन की घोषणा के साथ ही बंद कर दिए गए थे। लेकिन बाद मुख्य सचिव ने सभी दफ्तरों को खोलने का निर्देश दिया। जिसके आलोक में सोमवार से यह सारे दफ्तर खुल गए है। उपायुक्त जितेंद्र कुमार सिंह ने इस बाबत 19 अप्रैल को ही जिला से लेकर प्रखंड स्तर तक के सारे कार्यालयों का संचालन शुरू करने का निर्देश दिया था। डीसी ने मुख्य सचिव सुखदेव सिंह के निर्देश का हवाला देते हुए कहा है कि ग्रुप-ए एवं बी के पदाधिकारी आवश्यकता अनुसार कार्यालय में उपस्थित रहने का निर्देश दिया है। ग्रुप सी और उनके नीचे के कर्मचारियों की कार्यालय में 33 प्रतिशत तक उपस्थिति सुनिश्चित है। डीसी के आदेशानुसार ड्यूटी रोस्टर सभी ने जारी किया है। इतना ही नहीं मास्क पहनकर कार्यों का निष्पादन कर रहे हैं। खैनी, पान, गुटखा आदि खाकर थूकने से बच रहे हैं।