हजारीबाग जिला वासियों एवं क्रेशर माइंस में बिजली दुरुस्त होगा : डॉ आरसी मेहता

क्रशर माइंस एसोसिएशन ने जीएम को सौंपा मांग पत्र

इचाक से कुलदीप कुमार की रिपोर्ट

इचाक :क्रशर माइंस एसोसिएशन व्यवसाय डॉ आर सी मेहता अध्यक्ष प्रोफेशनल कांग्रेस एवं स्वास्थ्य विभाग उत्तर चोटनागपुर झारखंड की अगुवाई में डीएम को सौंपा मांग पत्र वही मेहता ने कहा कि पत्थर माइंस क्रेशर संबंधित न्यायालय में विचाराधीन न्याय प्रक्रिया के दौरान पत्थर व्यवसायिक प्रतिष्ठान में मे पूर्व के तरह बिजली देने एवं अनेकों बिजली समस्या समाधान किया जाए। हजारीबाग जिला सहित उतरी छोटा नागपुर को पत्थर उद्योग से जाना जाता है पत्थर व्यवसाई एवं माइंस को 200 गज के जगह 5 किलोमीटर किए जाने के कारण न्यायालय में चल रहा मुकदमा विचाराधीन है। झारखंड सरकार इस पर विचार कर रही है। इस दरमियान ज्ञात हुआ है कि कुछ बिजली कर्मी पत्थर व्यवसाय के कनेक्शन नहीं देने का बात कह रहे हैं। झारखंड सरकार के माननीय कृषि मंत्री श्री बादल पत्रलेख को आवेदन दिया गया है जो मेरे संज्ञान में आया है। माननीय विद्युत महाप्रबंधक से विनम्र आग्रह है की न्यायालय के आदेश आने तक बिजली को पूर्व के तरह चलने दिया जाए। जिससे सरकार को रेवेन्यू आएगा एवं लाखों मजदूर एवं व्यवसाय महामारी काल मेंअपना जीविकोपार्जन कर गुजर बसर करेंगे सकेंगे और मजदूर पलायन होने को मजबूर नहीं होंगे।
साथ ही साथ हजारीबाग के अनेकों विद्युत संबंधी ज्वलंत समस्याओं को आप संज्ञान में लेकर उत्तरी छोटानागपुर वासियों को कल्याण करें। आवेदन देने वाले में शामिल उप प्रमुख चंद्रदेव मेहता, चौहान महतो ,सत्येंद्र मेहता समेत कई लोग मौजूद थे।