लातेहार: कुटकू वन क्षेत्र में हाथी के बच्चे की मौत

बरवाडीह: पलामू टाइगर प्रोजेक्ट अंतर्गत कुटकु वन क्षेत्र रेंज के भंडरिया जंगल में हाथी के एक बच्चा की मौत हो गई। वन विभाग की टीम ने मृत हाथी के बच्चे के शव को बरामद कर लिया है। उसके पेट मे गहरा जख्म का निशान है। जिसमे कीड़े भी हो गए थे। पशु चिकित्सको की टीम ने हाथी के मृत बच्चे के शव का पोस्टमार्टम किया । इसके बाद शव को दफना दिया गया है । मृत हाथी के बच्चे के पेट जख्म कैसे हुआ था,यह अभी पूरी तरह स्पष्ट नही हो पाया है। पीटीआर के डीएफओ कुमार आशीष ने हाथी के बच्चे की मौत होने की पुष्टि की है। कहा कि लगता है कि जंगल मे नुकीले किसी चीज से उसके पेट मे जख्म हो गया है। सम्भवतः उसी जख्म के गम्भीर रूप धारण करने के कारण हाथी के बच्चे की मौत हुई है। मंगलवार को उस मृत हाथी के बच्चे पर वन विभाग के टेकर गार्ड की नजर पड़ी। सूचना वनाधिकारियों की टीम वहां पहुंची और हाथी के मृत बच्चा की मौत के कारणों की जांच की । उंन्होने बताया कि हाथी के बच्चे का उम्र करीब तीन साल था। कम उम्र रहने के कारण उसके मुंह मे दांत अभी नही हुए थे । उसके शरीर के विभिन्न हिस्सों के सैम्पल जांच के लिए लिया गया है। जांच के लिए सैम्पल को रांची पशु मेडिकल कॉलेज भेजा जाएगा।