झुंड से बिछड़ा हाथी ने डाला डेरा ग्रामीण हो रहे हैं परेशान

लिट्टीपाड़ा: झुंड से एक बिछड़ा हाथी शनिवार को कर्माटाड़ पंचायत के बड़ा मालगोड़ा गांव के समीप डेरा डाले हुए है । 1 सप्ताह से अधिक दिनो से दर्जन से ज्यादा गाँव के ग्रामीण मतवाला हाथी के भय से अपनी सुरक्षा के लिए रात जग्गा कर रात्रि गुजारा कर रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि हमारे क्षेत्र से सीमावर्ती जिला साहिबगंज की ओर हाथी चले जाने से हम लोग राहत की सांस लिए थे ,लेकिन हाथी पुनः हम लोग के क्षेत्र में आ जाने से ग्रामीण सहमे हुए।शुक्रवार रात्रि हाथी सोनाधनी ,करमाटांड़,कुंजबोना पंचायत क्षेत्र के दर्जनों गांवों में विचलन कर रहे थे। कर्माटांड़ पंचायत के मुखिया माड़ी पहाड़नी ने बताया कि शनिवार दोपहर को बड़ा मालगोड़ा गाँव के जंगलों में हाथी डेरा डाले हुए है।हाथी के भय से ग्रामीण सहमे हुए हैं रात भर लोग एक जगह एकत्रित होकर आग जलाकर रात गुजार रहे हैं। रात भर हाथी का सूचना दूसरे गांव के ग्रामीणों द्वारा मोबाइल पर दूसरे गांव को सूचित करते रहने के बाद ग्रामीण एक जुट होकर गाँव के बाहर कई जगह पर आग जला दिया। और रात भर जग कर परिवार की सुरक्षा करते हुए रात गुजारा । वही सठिया, मगभीठा, मुलूकधनी, राजाभिटा, सोनाधनी, छोटा जारा, बड़ा जारा, नारची , बीचपहाड़, राक्सो , छुरीधारी, अमरभिटा, छोटा मालगोड़ा के अलावे आस पास के सभी गाँव मे ग्रामीण हाथी के आने के भय से अपना घर द्वार छोड़कर सभी लोग एक जगह एकत्र होकर आग जलाकर रात बिताया। ग्रामीण हाथी के भय से काफी दहसत में जी रहे है। वही नरेंन नादो ने का कहना है कि पहरेदार की भांति ग्रामीण बारी बारी से रात जग्गा कर अपने गाँव परिवार की सुरक्षा कर रहे है।