समय पर रैयतों का भुगतान सुनिश्चित करें : उपायुक्त

पलमा-गुमला पथ परियोजनांतर्गत गुमला, सिसइ एवं भरनो अंचलों में पड़ने वाले मौजा के भू-अर्जन से संबंधित कार्यों के प्रगति की समीक्षा बैठक संपन्न

गुमला : उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में पलमा – गुमला पथ परियोजनांतर्गत गुमला, सिसई एवं भरनो अंचलों में पड़ने वाले मौजा के भू-अर्जन से संबंधित कार्यों की समीक्षा हेतु बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय प्रकोष्ठ में किया गया।

बैठक में उपायुक्त ने 01 जून 2021 तक गुमला, सिसई एवं भरनो अंचलों से प्राप्त वंशावली के अनुसार रैयतों को किए जाने वाले भुगतान की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि 644 पंचाटी में से भुगतान किए जाने योग्य पंचाटों की संख्या 348 है। वहीं रैयतों की संख्या 1992 है। जिन्हें 33 करोड़ 97 लाख की राशि का भुगतान किया जाना है। उक्त के लिए उपायुक्त ने तिथिवार एवं ग्रामवार रैयतों के भुगतान हेतु विवरणी तैयार करने का निर्देश अपर समाहर्त्ता को दिया। साथ ही तदनुसार भूमि सुधार उप समाहर्त्ता को सभी आवश्यक कागजातों समेत अपने कर्मियों के साथ गाँवों में जाकर रैयतों से भुगतान हेतु आवश्यक कागजात प्राप्त करते हुए उनका आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त द्वारा ये भी बताया गया कि चूंकि वर्षा ऋतु प्रारंभ होने पर है, अतः इसे ध्यान में रखते हुए 15 जून तक रैयतों का भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश भूमि सुधार उप समाहर्त्ता को दिया। उन्होंने भुगतान संबंधी कार्यों में गति लाने का निर्देश दिया, ताकि परियोजना समय पर पूर्ण हो सके।

बैठक में एनएचएआई द्वारा बताया गया कि गुमला- पलमा पथ पर अवस्थित गाँवों में विद्युतिकरण हेतु प्राक्कलन विद्युत विभाग द्वारा अबतक समर्पित नहीं किया गया है। इसपर उपायुक्त ने कार्यपालक अभियंता विद्युत प्रमंडल को आवश्यकतानुसार एवं एनएचएआई के निर्धारित दिश-निर्देशों के आधार पर ही विद्युतिकरण संबंधी प्राक्कलन तैयार करने का निर्देश दिया। इस संबंध में उन्होंने कार्यपालक अभियंता को एनएचआई के साथ समन्वय स्थापित कर प्राक्कलन तैयार कर समर्पित करने का निर्देश दिया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, भूमि सुधार उप समाहर्त्ता सुषमा नीलम सोरेंग, पीडी एनएचएआई, आऱकेडी डीजीएम मनोरंजन सिंह, कार्यपालक अभियंता विद्युत विभाग सत्यनारायण पातर व अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *