सम्पूर्ण लाकडाउन कतई ठीक नहीं है :पवन शंकर पांडेय

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: झारखंड सरकार द्वारा स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह में रविवार को संपूर्ण लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है शनिवार रात्रि 8:00 बजे से सोमवार सुबह 6:00 बजे तक लॉकडाउन रहेगा ऐसा निर्णय है यह बात सत्य है कि कोरोना को ध्यान में रखते हुए सतर्कता बहुत जरूरी है ताकि कोरोना को मात दिया जा सके और झारखंड प्रदेश कोरोना से मुक्त हो सके परंतु इसके लिए रविवार को संपूर्ण लॉकडाउन करना कतई जनहित के लिए सही नहीं है क्योंकि रेलगाड़ियों का परिचालन तो रविवार को भी जारी है बहुतायत यात्री पूरे झारखंड में रेल से रविवार को विभिन्न स्टेशनों में उतरते हैं दुकानें बंद रहने के कारण उन्हें खाने के सामान नहीं मिलते से उन्हें काफी दिक्कतें होती है साथ ही बस अथवा अन्य गाड़ियों का परिचालन रविवार को बंद रहता है जिसके परिणाम स्वरुप अपने गंतव्य स्थान को वे जा भी नहीं सकते हैं कहा जाए कि आम नागरिकों को काफी सारी दिक्कतें होती है इस पर सरकार को पुनर्विचार करना चाहिए सरकार से हमारा आग्रह है कि इस पर पुनर्विचार कर जनहित में सही निर्णय लें सरकार को चाहिए कि यदि रविवार को संपूर्ण लॉकडाउन करना भी है तो प्रत्येक रविवार रेलगाड़ियों का भी प्रवेश झारखंड प्रदेश में बंद होना चाहिए ताकि कोई भी यात्री रविवार को कहीं से भी यात्रा कर झारखंड प्रदेश में प्रवेश ना कर सके और यदि रेल का परिचालन रविवार को बंद नहीं हो पाता है तो रविवार को संपूर्ण लॉकडाउन करना कहीं से भी जनहित में नहीं है सरकार को चाहिए कि इस समस्या को ध्यान में रखते हुए जनहित में निर्णय ले रविवार को संपूर्ण लॉकडाउन ना कर उसे समाप्त करते हुए जैसा प्रतिदिन सुबह 6:00 बजे से 8:00 बजे तक का समय कार्य होता है उसी तरह रविवार को भी रहे ताकि आम नागरिकों को किसी प्रकार की समस्या ना हो रेलयात्री भी अपने गंतव्य स्थान पर रविवार को भी आसानी से जा सके उक्त बातें भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष पवन शंकर पांडे ने कही