आधुनिक युग में भी पक्की सड़क को तरसते ग्रामीण, कीचड़ युक्त सड़क पर चलने को मजबूर

कुंदा(चतरा)अजीत कुमार। जिले के अति उग्रवाद प्रभावित कुंदा प्रखंड क्षेत्र के नवादा पंचायत क्षेत्र अंतर्गत सिंदरी एवं उलवार गांव के ग्रामीण आजादी के वर्षों बाद इस अधुनिक युग में भी पक्की सड़क के लिए तरस रहे हैं। उक्त गांव में सड़क के साथ कई मूलभूत संसाधनों का घोर अभाव है। गांव में निवास करने वाले लोगों की परेशानी बरसात के दिनों तब और बढ़ जाती है जब उन्हें दलदल कीचड़ युक्त सड़क पर चलना पड़ता है। ग्रामीण रजदेव भोक्ता, प्रविल भोक्ता, शिवबरत भोक्ता, अखलेश भोक्ता, राजेश भोक्ता, रामू गंझू, अनुज कुमार, संदीप कुमार, सृजित कुमार, देवभगत भोक्ता, महेंद्र गंझु, गंदौरी गंझु आदि ने समस्याओं की जानकारी देते हुए बताया कि जर्जर सड़क समेत अन्य मूलभूत सुविधाओं को लेकर स्थानीय जनप्रीतिनिधी व सरकारी पदाधिकारीओ को जानकारी देते हुए सड़क बनवाने की मांग की गई, परन्तु किसी ने आजतक पहल नही की। वहीं सिंदरी एवं उलवार गांव के ग्रामीणों ने खुले तौर पर कहा कि पंचायत चुनाव में वैसे उम्मीदवार को ही वोट दिया जाएगा जो इस गांव की मूलभूत संसाधनों को पूरा करने में सहयोग करेंगे।