पलामू : पैसेंजर ट्रेन में एक्सप्रेस की तरह किराया, अब ट्रेन में बैठते ही एक स्टेशन के लिए देने होंगे 30 रुपये

पलामू से सुधीरक कुमार गुप्ता की रिपोर्ट

मेदिनीनगर: भारतीय रेलवे अब एक अगस्त से पैसेंजर ट्रेन का भाड़ा लगभग 80 प्रतिशत बढ़ा दिया है. कोरोना काल में बंद पैसेंजर ट्रेन का किराया अब एक्सप्रेस का लगेगा. एक एवं दो अगस्त को डालटनगंज सहित अन्य स्टेशनों पर टिकट काउंटर पर बढ़े किराया को लेकर रेलकर्मी से कई यात्रियों की नोकझोंक हो गयी. इसका कारण यह रहा कि यात्रीगण जब पैसेंजर का टिकट ले रहे थे तो भाड़ा एक्सप्रेस का लिया जा रहा था।यात्रियों का आरोप है कि इसकी जानकारी पूर्व में रेलवे द्वारा नहीं दी गयी थी. यात्रियों का कहना है कि जब ट्रेन चलाने की सूचना दी गयी तो भाड़ा बढ़ाने की सूचना भी रेलवे को देनी चाहिये थी।

रेलवे ने झाड़ा पल्ला

इस संबंध में डालटनगंज रेलवे स्टेशन के प्रबंधक अनिल कुमार तिवारी ने कहा कि कोविड काल में जितनी पैसेंजर टेªन चल रही हैं, उसका किराया अनरिजर्व बुकिंग की तरह लिया जा रहा है. इसलिए पैसेंजर ट्रेन का किराया एक्सप्रेस की तरह लग रहा है. उन्होंने कहा कि रेलवे ने इसका नोटिफिकेशन पहले ही जारी कर दिया था. यात्री इस संबंध में जानकारी नहीं रखते. उन्हें लगता है कि इस संबंध में केवल रेलवे दोषी है. टिकट का फॉर्मेट प्रिंटेड आता है. इसमें स्थानीय रेलकर्मी की क्या दोष?

पैसेंजर ट्रेन में चढ़ते ही लगेंगे 30 रूपया किराया

रेलवे की जो नयी किराया तालिका जारी की गयी है, उसके अनुसार अब पैसेंजर टेªन में चढ़ते ही 30 रूपया किराया देना होगा. रेलवे ने 50 किलोमीटर के एरिया के लिए 30 रूपया किराय निर्धारित किया है. 50 किलोमीटर की दूरी में जितने भी स्टेशन आयेंगे, उसका किराया 30 रूपया तक देना होगा, यानि आप इस दूरी के एक स्टेशन का सफर करें या फिर 50 किलोमीटर के अंतिम छोर वाले स्टेशन तक की. पहले एक स्टेशन का किराया 10 रूपया लगता था.

डालटनगंज से डेहरी का किराया 65 रूपया हुआ

पैसेंजर टेªन में डालटनगंज से डेहरी का किराया 65 रूपया हो गया है. इसी तरह जपला का 45 रूपया किराया कर दिया गया है. पहले डेहरी का किराया 32 रूपया था, जबकि जपला के लिए 25 रूपये का टिकट लेना पड़ता था. इसी तरह करकट्टा स्टेशन का किराया 30 रूपया लगेगा, वहीं कजरी का भी किराया इतना ही देना पड़ेगा. चियांकी और बरवाडीह का किराया 30 रूपया किया गया है.

पैसेंजर ट्रेन चालू होने की खुशी हुई किरकिरी

विदित हो कि पूर्व मध्य रेलवे ने सीआईसी रेलखंड की दो महत्वपूर्ण पैसेंजर टेªनों का परिचालन एक और दो अगस्त से सुचारू किया है. इसमें 03311, 03312 बरवाडीह-डेहरी ऑन सोन-बरवाडीह और 03343, 03344 गोमो-चोपन-गोमो पैसेंजर शामिल है. दोनों पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन 497 दिन बाद किया जा रहा है. गौरतलब है कि उक्त दोनों पैसेंजर ट्रेन का परिचालन 22 मार्च 2020 से बंद था. दोनों ट्रेनें पलामू जिले की लाइफलाइन हैं. ट्रेन चालू की खुशी के बीच किराया में बढ़ोतरी होने से कोरोना काल में यात्रियों की बचत की सोच को गहरा झटका लगा है।