किसान विरोधी तीनों काला कानून के निरस्त करने के लिए किसान मांग दिवस 1 सितंबर को : भुवनेश्वर

हजारीबागः आज सीपीआई कार्यालय मंजूर भवन हजारीबाग में अखिल भारतीय किसान सभा के जिला अध्यक्ष नेमन यादव की अध्यक्षता में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी एवं किसान सभा की बैठक हुई । बैठक मे मुख्य रूप से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव हजारीबाग के पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता, सहायक सचिव महेंद्र पाठक मौजूद थे। बैठक को संबोधित करते हुए हजारीबाग के पूर्व सांसद भुवनेश्वर प्रसाद मेहता ने कहा केंद्र के सरकार 3 किसान विरोधी कानून लाकर देश में कोहराम मचा रखा है, नव महीने से दिल्ली के सड़कों पर लाखों किसान डटे हुए हैं। 600 से अधिक किसानों की शहादत हुई है। लेकिन प्रधानमंत्री के हैं हठधर्मिता के कारण किसान विरोधी कानून वापस नहीं हो रहा है। राज्य में भी लूट भ्रष्टाचार चरम पर है ।ट्रांसफर पोस्टिंग में करोडो रुपए वसूल किए जा रहे हैं। राज्य में अपराधिक घटनाओं में वृद्धि हुई है, इसीलिए पूरे झारखंड में 1 सितंबर को सभी जिला मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को मांग पत्र सौंपा जाएगा। मुख्य मांगे किसान विरोधी तीनों काला कानून को निरस्त करने ,न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी के लिए कानून बनाने ,60 वर्ष उम्र वाले सभी किसानों को ₹10000 मासिक पेंशन देने गैरमजरूआ जमीन के बंद पड़े रशीद को चालू करने, अवैध बंदोबस्ती को रद्द करने आदि कई मांगों के समर्थन में प्रदर्शन किया जाएगा। प्रदर्शन में मुख्य रूप से हजारीबाग के पूर्व सांसद भुनेश्वर प्रसाद मेहता, अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक, नैमन यादव, प्रवीण मेहता, महेंद्र कुमार प्रजापति ,चांद खान, निजाम अंसारी, गुलाम जिलानी, मजीद अंसारी ,दिलीप कुमार पासवान, स्वदेशी पासवान, जगदीश महतो ,चंदन राम ,नागेश्वर रजक, दिलीप कुमार पासवान ,नंदलाल साहू, अमानुल्लाह, आदि कई लोग मौजूद थे।