वरीय पुलिस अधिकारी के निर्देश पर दर्ज हुई प्राथमिकी

गोड्डा/पथरगामा: थाना क्षेत्र के भगवानचक निवासी धनंजय राय ने अपने सगे भाइयों के विरुद्ध मारपीट को लेकर प्रथमिकी दर्ज कराई है। प्राथमिकी घटना के 4 दिन बाद एसडीपीओ के निर्देश पर दर्ज हुई।
इसके पूर्व धनंजय राय के आवेदन पर पथरगामा थाना में प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई थी। बुधवार को पीड़ित धनंजय राय अपनी पत्नी एवं चार बच्चों को लेकर आरक्षी अधीक्षक से मिलने उनके कार्यालय कक्ष पहुंचा था। उसी दौरान अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आनंद मोहन सिंह की नजर पीड़ित पर पड़ गई। सिर फट जाने के कारण धनंजय राय के माथे पर पट्टी बंधी हुई थी। पूछताछ करने पर उसने बताया कि उसके सगे भाइयों ने उसके साथ मारपीट कर घर से बेदखल कर दिया है। 4 दिन पूर्व पथरगामा थाना में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया गया है लेकिन प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई है।
पीड़ित की शिकायत पर एसडीपीओ श्री सिंह ने तत्काल पथरगामा के थाना प्रभारी को फोन लगाकर प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया।
धनंजय राय ने मारपीट का आरोप अपने भाई सत्यनारायण राय,  परमानंद राय, तारणी राय, प्रमोद राय , सुबोध राय पर लगाया है। घटना को लेकर थाना कांड संख्या 154/21 दर्ज की गई है। दर्ज प्रथमिकी में कहा गया है कि घटना के दिन उक्त आरोपियों ने घर मे घुसकर मारपीट किया और घर का सामान उठा ले गया। उठा ले गए सामान में चावल, गेंहू, धान आदि सामान शामिल है, जिसकी कीमत 25 हजार बताई गई है। पुलिस प्रथमिकी दर्ज कर जांच में जुट गई है।