नवीं एवं दसवीं की कक्षाओं के संचालन को लेकर सभी शिक्षक एवं शिक्षिकाओं की उपस्थिति अनिवार्य : उपायुक्त

उपायुक्त गुमला ने सदर प्रखंड के करमटोली स्थित राजकीय उच्च विद्यालय एवं कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय का औचक निरीक्षण किया

गुमला: उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा ने सदर अनुमंडल पदाधिकारी रवि आनंद को साथ लेकर सदर प्रखंड के करमटोली स्थित राजकीय उच्च विद्यालय एवं कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय का औचक निरीक्षण किया।

राजकीय उच्च विद्यालय के निरीक्षण के क्रम में विद्यालय परिसर में अनावश्यक झाड़ियां एवं घांस पाई गई। इसपर उपायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए समय-समय पर विद्यालय परिसर की साफ-सफाई, अनावश्यक झाड़ियों एवं घांस-फूस का कटाव करने का निर्देश दिया।

विद्यालय के प्रयोगशाला में अनावश्यक सामानों का संग्रहण पाया गया तथा प्रयोगशाला में प्रयोग हेतु आवश्यक संसाधन की कमी पाई गई। इसपर उपायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए प्रयोगशाला का उपयोग केवल प्रयोग हेतु ही करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने प्रयोगशाला की साफ-सफाई कर विज्ञान आदि के प्रयोग हेतु व्यवस्थित करने का भी निर्देश दिया।

उपायुक्त ने शिक्षक-शिक्षिकाओं के उपस्थिति पंजी का अवलोकन किया। अवलोकन के दौरान विद्यालय में 06 शिक्षिकाएं उपस्थित पाई गई, किंतु अर्थशास्त्र के सहायक शिक्षक अरविंद मिंज विद्यालय परिसर से अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित पाए गए। इसपर उपायुक्त ने नाराजगी व्यक्त करते हुए सहायक शिक्षक का वेतन स्थगित करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उपायुक्त ने कक्षा 09 एवं दसवीं में अध्ययनरत विद्यार्थियों की उपस्थिति पंजी का भी अवलोकन किया। शिक्षकों द्वारा बताया गया कि कक्षा 09 में 37 तथा कक्षा 10 में 34 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं, किंतु कक्षा दसवीं में 34 में से मात्र 10 बच्चे ही नियमित रूप से स्कूल आ रहे हैं। इसपर उपायुक्त ने शिक्षकों को विद्यार्थियों के साथ समन्वय स्थापित कर उन्हें नियमित रूप से कक्षा में उपस्थित होने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने शिक्षकों से सरकार द्वारा निर्धारित समय सारिणी (पूर्वाह्न 08 बजे से अपराह्न 02 तक) के अनुसार विद्यालय परिसर में उपस्थित रहने का भी निर्देश दिया। उन्होंने विद्यार्थियों के बौद्धिक विकास के दृष्टिकोण से विद्यालय में प्रयोगशाला की स्थिति सुधारने तथा पुस्तकालय अधिष्ठापित करने का भी निर्देश दिया।

कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय का निरीक्षण
उपायुक्त ने कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में विद्यालय परिसर में बड़ी संख्या में पाठ्य पुस्तकों का ढेर पाया गया। इसपर उपायुक्त ने वार्डन रश्मि एक्का से पाठ्य-पुस्तकों की जानकारी प्राप्त की। रश्मि एक्का ने बताया कि परिसर में विभिन्न कक्षावार पाठ्य-पुस्तकें विगत एक-दो माह से परिसर में संग्रहित है। जिसे समय-समय पर अन्य विद्यालयों के लिए भेजा जा रहा है। इसपर उपायुक्त ने पाठ्य-पुस्तकों का उचित प्रबंधन सुनिश्चित करने तथा जिन विद्यार्थियों के बीच पुस्तकों का वितरण नहीं किया गया है, उन्हें अविलंब पाट्य-पुस्तकें उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया।

जाँच के क्रम में विद्यालय परिसर में कक्षा 09 एवं 10 के विद्यार्थियों की उपस्थिति शून्य पाई गई। विदित हो कि विद्यालय में कक्षा 11वीं को छोड़कर कुल 354 बालिकाएं अध्ययनरत हैं। विद्यार्थियों की शून्य उपस्थिति पर उपायुक्त ने असंतोष व्यक्त करते हुए वार्डेन से जानकारी प्राप्त की। वार्डन द्वारा बताया गया कि राशन की समस्या होने के कारण कक्षा संचालित नहीं कराया जा रहा था। साथ ही बताया गया कि राशन की समस्या की लिखित जानाकरी जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक को दी गई है किंतु समस्या का समाधान नहीं हुआ है। इसपर उपायुक्त ने एडीपीओ को यथाशीघ्र राशन की समस्या का निराकरण कर विद्यालय परिसर में राशन की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। साथ ही जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं करने पर उनसे स्पष्टिकरण पूछने का निर्देश दिया। इसके साथ ही शिक्षक-शिक्षिकाओं के उपस्थिति पंजी की समीक्षा के क्रम उपस्थिति पंजी के आधार पर वार्डन सह शिक्षिका रश्मि एक्का तथा विज्ञान शिक्षिका रोहिणि कुमारी प्रसाद ही उपस्थित पाई गई। शिक्षकों के उपस्थिति पंजी के अवलोकन के क्रम में शिक्षक एवं शिक्षिकाओं द्वारा इन्ट्री का समय प्रविष्ट पाया गया किंतु निकासी का समय प्रविष्ट नहीं किए जाने पर उपायुक्त ने क्रोध व्यक्त करते हुए विद्यालय परिसर से अनाधिकृत रूप से अनुपस्थित तथा निकासी का समय दर्ज नहीं करने वाले सभी शिक्षक एवं शिक्षिकाओं से स्पष्टिकरण पूछते हुए उनके वेतन स्थगित करने का निर्देश दिया।

निरीक्षण के दौरान सदर अनुमंडल पदाधिकारी द्वारा कक्षाओं की साफ-सफाई, प्रयोगशाला में संधारित उपस्कर आदि का प्रबंधन, छात्रावास की स्थिति, कंप्यूटर कक्ष सह स्मार्ट क्लास के वस्तु स्थिति का अवलोकन किया गया। उपायुक्त ने पुस्तकालय का निरीक्षण कर विद्यार्थियों के बौद्धिक विकास हेतु लाभकारी पुस्तकों का उचित प्रबंधन सुनिश्चित करने पर जोर दिया। साथ ही उन्होंने विद्यालय परिसर की निरंतर साफ-सफाई एवं अनावश्यक झाड़ी व घांस की कटाई सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया।

उपस्थिति
निरीक्षण के दौरान उपायुक्त सहित सदर अनुमंडल पदाधिकारी रवि आनंद, सदर अंचलाधिकारी कुशलमय केनेथ मुण्डू, एडीपीओ पीयुष गुप्ता, राजकीय उच्च विद्यालय के शिक्षिकाएं, आदेशपाल, कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय का वार्डेन सह शिक्षिका रश्मि एक्का, विज्ञान शिक्षिका रोहिणि कुमारी प्रसाद व अन्य उपस्थित थे।