रामगढ़ जिले में एक करोड़ 37 लाख 58 हजार 600 रुपए की राशि की योजनाओं का किया शिलान्यास

मंत्री, श्रम, नियोजन, प्रशिक्षण एवं कौशल विकास विभाग सह प्रभारी मंत्री रामगढ़ सत्यानंद भोक्ता ने किया रामगढ़ जिले का दौरा । मंत्री की अध्यक्षता में समाहरणालय सभागार में हुई जिला योजना समिति की बैठक।

रामगढ़ से वली उल्लाह की रिपोर्ट

रामगढ़: बृहस्पतिवार को झारखंड सरकार के मंत्री, श्रम, नियोजन, प्रशिक्षण एवं कौशल विकास विभाग सह प्रभारी मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने रामगढ़ जिले का दौरा किया। इस दौरान परिसदन रामगढ़ मे
ममता देवी, उप विकास आयुक्त नागेंद्र कुमार सिन्हा एवं झारखंड मुक्ति मोर्चा जिलाध्यक्ष विनोद किस्कु नेमंत्री को पुष्प देकर उनका स्वागत किया।
मंत्री की अध्यक्षता में जिला समाहरणालय सभागार में जिला योजना समिति की बैठक का आयोजन किया गया। सबसे पहले मंत्री के द्वारा जिला योजना समिति की पूर्व में हुई बैठक में दिए गए निर्देशों के आलोक में विभागों के द्वारा की गई कार्रवाई की समीक्षा की गई।

बैठक में मंत्री ने कोरोना के तीसरे लहर से बचाव हेतु रामगढ़ जिले में की जा रही तैयारियों की जानकारी उपायुक्त माधवी मिश्रा से ली।उपायुक्त द्वारा मंत्री को जानकारी दी गई कि जिला प्रशासन द्वारा तीव्र गति से लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है इसके साथ ही जिले में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने हेतु कार्य किया जा रहा है एवं बच्चों के इलाज हेतु पेडियाट्रिक वार्ड व अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं को सुदृढ़ करने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है।

बैठक में श्रम विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुएमंत्री ने श्रम अधीक्षक रामगढ़ से विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं का लाभ लाभुकों को देने की जानकारी ली। श्रम अधीक्षक के द्वारा मंत्री को रामगढ़ जिले में अब तक कराए गए मजदूरों के निबंधन, सेफ्टी किट वितरण, स्कॉलरशिप योजना, दुर्घटना सहित अन्य योजनाओं के तहत हुए कार्यों की जानकारी दी गई

चमोली त्रासदी में रामगढ़ जिले के मजदूरों के मृत्यु होने के उपरांत उनके आश्रितों को मुआवजा राशि उपलब्ध कराने के तहत हुए कार्यों की जानकारी ली जिसके उपरांत उन्होंने आश्रितों को जल्द से जल्द राशि उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।

ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल एवं भवन प्रमंडल द्वारा वर्तमान में रामगढ़ जिले में किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए जल्द से जल्द योजनाओं को पूर्ण करने के संबंध में मंत्री के द्वारा कई निर्देश दिए गए।

पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल रामगढ़ द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए मंत्री ने वर्तमान में संचालित योजनाओं के माध्यम से लोगों को उपलब्ध कराए जा रहे जल की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने जिले में लगाए गए सभी चापानल का संचालन सुचारु रुप से करने एवं अन्य योजनाओं के माध्यम से लाभुकों को लाभ देने का निर्देश दिया

पर्यटन विभाग की समीक्षा के दौरान विधायक मांडू विधानसभा क्षेत्र जयप्रकाश भाई पटेल के द्वारा रामगढ़ जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु स्थलों का सौंदर्यीकरण कराने की बात कही गई।

लॉकडाउन के दौरान शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए मंत्री ने जिला शिक्षा पदाधिकारी से कार्यों की जानकारी ली। जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा मंत्री को जानकारी दी गई कि लॉकडाउन के दौरान बच्चों को घर बैठे शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए डीजी साथ व लॉकडाउन e-pathshala डीसी रामगढ़ यूट्यूब चैनल के माध्यम से बच्चों को लाभ दिया जा रहा है।

विधायक ममता देवी ने कहा कि वर्तमान में जब विद्यालय बंद है तो वैसे सभी विद्यालयों का निरीक्षण किया जाए जिनके भवन के मरम्मत की जरूरत है और जल्द से जल्द कार्य पूरा किया जाए।

बैठक में मंत्री के द्वारा जिला आपूर्ति विभाग द्वारा किए जा रहे हैं कार्यों की समीक्षा की गई। इस दौरान उन्होंने विभिन्न योजनाओं के माध्यम से सभी योग्य लाभुकों को लाभ देने का निर्देश जिला आपूर्ति पदाधिकारी को दिया। इसके साथ ही उन्होंने सरकार द्वारा खरीदी गई धान की राशि का भुगतान सभी किसानों को करने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए मंत्री ने जिला कृषि पदाधिकारी से वर्तमान में जिले में निबंधित किसानों की संख्या की जानकारी ली। उन्होंने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत हुए कार्यों की जानकारी लेते हुए लाभुकों को लाभ देने के संबंध में महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

पशुपालन व मत्स्य विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए मंत्री ने अधिकारियों से विभाग द्वारा जिले में चलाए जा रहे योजनाओं की जानकारी ली। उन्होंने जिला पशुपालन पदाधिकारी मनोज ठाकुर को बकरी, बत्तख, शुकर, मुर्गी पालन से जुड़े लाभुकों को सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए समय से लाभ देने का निर्देश दिया। उन्होंने जिला मत्स्य पदाधिकारी से उनके विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी लेते हुए महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

जिला समाज कल्याण विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए मंत्री ने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी से जिले में स्थित आंगनबाड़ी केंद्रों, विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभुकों को दिए जा रहे हैं लाभ की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने योजनाओं के माध्यम से समय से लाभुकों को राशन उपलब्ध कराने के संबंध में कई महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

जिला कल्याण विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए मंत्री ने जिला कल्याण पदाधिकारी से जिले में स्थित अनुसूचित जाति आवासीय विद्यालयों एवं उनमें नामांकित बच्चों तथा उन्हें उपलब्ध कराए जा रहे हैं लाभ की जानकारी लेते हुए महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

विद्युत विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा करते हुए मंत्री ने वर्तमान में जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में विद्युत सप्लाई की जानकारी ली। इस दौरान विधायक रामगढ़ के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में 11000 वोल्ट के तारों की मरम्मत के कार्य कराने की बात कही।

बैठक में विधायक मांडू के द्वारा प्रदूषण के मामले को उठाया गया। उन्होंने मंत्री एवं उपायुक्त से जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में कार्यरत कारखानों द्वारा प्रदूषण मानकों का पालन नहीं करने की बात कही। इस संबंध में उन्होंने औचक रूप से कारखानों का जांच एवं आवश्यक कार्रवाई करने का सुझाव दिया।

बैठक में विधायक रामगढ़ के द्वारा विभिन्न आवास योजनाओं का लाभ योग्य लोगों को देने, 14वें वित्त आयोग के तहत संचालित योजनाओं का सुचारू रूप से संचालन करने, मुख्यमंत्री सुकन्या योजना सहित अन्य योजनाओं का सफल संचालन करने के संबंध में कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की गई।

बैठक में विधायक बड़कागांव विधानसभा क्षेत्र के प्रतिनिधि के द्वारा पतरातू प्रखंड में 30 बेड के अस्पताल के निर्माण, टोकीसूद- सांकूल मार्ग निर्माण, पलानी झरना का सौंदर्यीकरण व पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने, सड़क निर्माण में अनियमितता, चापानल मररम्मति संबंधित महत्वपूर्ण मुद्दों को बैठक में रखा गया। जिस पर चर्चा के उपरांत मंत्री द्वारा आवश्यक कार्यवाही हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया गया। मंत्री के द्वारा ग्रामीण विकास विशेष प्रमंडल रामगढ़ द्वारा संचालित एक करोड़ 37 लाख 58 हजार 600 रुपए की राशि की कुल 7 योजनाओं का शिलान्यास किया गया।

बैठक के बाद मंत्री के द्वारा मत्स्य विभाग जेएसएलपीएस सहित अन्य विभागों के लाभुकों के बीच परिसंपत्तियों का वितरण किया गया।
इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, वन प्रमंडल पदाधिकारी, सिविल सर्जन, जिला परिवहन पदाधिकारी, जिला स्तरीय वरीय पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।