गांधी जी ने संपूर्ण विश्व को अहिंसा का संदेश दिया

– राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर आयोजित किया गया सेमिनार
गोड्डा: राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं स्वतंत्र भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के अवसर पर शनिवार को जिला प्रशासन के तत्वावधान में स्थानीय नगर भवन में सेमिनार का आयोजन किया गया। मौके पर पूरे विश्व को सत्य एवं अहिंसा का संदेश देने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं जय जवान जय किसान का नारा बुलंद करने वाले पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की तस्वीर पर माल्यार्पण करने के पश्चात उप विकास आयुक्त चंदन कुमार, अपर समाहर्ता जुल्फिकार अली, अनुमंडल पदाधिकारी ऋतुराज, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आनंद मोहन सिंह, जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी अभय कुमार, विधि शाखा प्रभारी सुजीत कुमार, खेल पदाधिकारी राहुल कुमार सहित अन्य ने दीप प्रज्वलित कर सेमिनार का शुभारंभ किया।

सेमिनार में उप विकास आयुक्त चंदन कुमार ने महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री के प्रति अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि गांधी जी के अहिंसा के सिद्धांतों को पूरे दुनिया ने सराहा और उसे मान्यता दी। महात्मा गांधी के उच्च विचारों ने न सिर्फ हमारे देश का मार्गदर्शन किया बल्कि पूरे विश्व को भी अहिंसा की राह दिखाई। जिस प्रकार उन्होंने अपने देश को अहिंसा के साथ आज़ादी दिलाई वो अपने आप में एक मिसाल है। हम सभी को मिलकर आगे बढ़ना है एवं बदलाव लाना है।
स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री को स्मरण करते हुए कहा कि जय जवान जय किसान का नारा देने वाले लाल बहादुर शास्त्री का देश की आजादी में खास योगदान था। अपनी स्वभाविक सहिष्णुता और सराहनीय सूझबूझ से समस्याओं को सुलझाने की जो शैली शास्त्रीजी ने अपनाई, उससे सबको पता चल गया कि जिस आदमी के कंधों पर भारत का भार रखा गया है, वह अडिग, आत्मविश्वास और हिमालयी व्यक्तित्व का स्वामी है।आज हमें आवश्यकता है कि इन महापुरूषों के जीवन से प्रेरणा लें तथा उनके द्वारा बताए मार्ग पर चलकर राष्ट्र को प्रगति की ओर ले जाने का प्रण करें।
अपर समाहर्ता जुल्फिकार अली ने कहा कि महात्मा गांधी एक महान पुरूष थे। उन्होंने देश की स्वतंत्रता के लिए जो योगदान दिया है उसे हम सब भुला नहीं सकते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री महान एवं सच्चे व्यक्तित्व के धनी थे।
सेमिनार में अनुमंडल पदाधिकारी गोड्डा ऋतुराज, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आनंद मोहन सिंह ने भी भी गांधी जी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के जीवनी के बारे में प्रकाश डालते हुए इन महापुरुषों के जीवन से सीख लेने एवं इनके बताए मार्ग पर चलने की जरूरत बताई।
सेमिनार में छात्र एवं छात्राओं के द्वारा गायन एवं भाषण की प्रस्तुति भी दी गई। साथ ही क्विज प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। विजयी प्रतिभागियों के बीच पुरस्कार का भी वितरण किया गया। मंच का संचालन रेडक्रॉस के सचिव सुरजीत झा कर रहे थे। धन्यवाद ज्ञापन सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी अभय कुमार ने किया।