रामगढ़ में सक्रिय अपहरणकर्ताओं के गिरोह का पर्दाफाश, 8 गिरफ्तार

रामगढ़ से वली उल्लाह की रिपोर्ट

रामगढ : रामगढ़ पुलिस ने गेल कंपनी के कर्मचारी के अपहरणकर्ताओं का खुलासा कर लिया है। 15 सदस्यों के गिरोह में से 8 लोगों को रजरप्पा के जंगल से गिरफ्तार किया गया है। इस पूरे मामले का खुलासा बुधवार को एसपी प्रभात कुमार ने प्रेस वार्ता कर दी। उन्होंने बताया कि सभी अपराधी गोला थाना क्षेत्र के बंदा गांव के रहने वाले हैं। इन सभी लोगों ने योजनाबद्ध तरीके से गेल कंपनी के सुरक्षाकर्मी रामकुमार प्रजापति का अपहरण 3 मई को कर लिया था। अपराध कर्मियों से बरामद सामानों में दो देसी कट्टा ,दो जिंदा कारतूस , दो टांगी , दो फरसा, एक धारदार दबली, सात मोबाइल , एक प्लसर मोटरसाइकिल जिसका नंबर JH24G8330 , एक होंडा साईन मोटरसाइकिल जिसका नंबर JH24B0636 , एक तिरपाल , 10 से 15 फीट का , एक कंबल , 3 धारीदार पुराना टी शर्ट बरामद किया गया ।
पुलिस द्वारा गिरफ्तार अभियुक्तों में मुख्य रूप से विरचंद मांझी पिता रसिकलाल मांझी उम्र 27 , विनोद मांझी पिता सुखदेव मांझी उम्र 32 , सोमरा उर्फ गुच्चू मांझी पिता स्वर्गीय शिकारी मांझी उम्र 38 वर्ष , निरंजन मुर्मू उर्फ निरा पिता खजान मांझी उम्र 32 वर्ष , शिव मांझी पिता स्वर्गीय अर्जुन मांझी उम्र 40 वर्ष , सुरेंद्र मांझी पिता रसिकलाल मांझी उम्र 20 वर्ष , बेनीराम मांझी पिता धनीराम मांझी उम्र 35 वर्ष , गौतम मांझी पिता लुधा मांझी उम्र 25 वर्ष , सभी बन्दा टोला पिपराजारा पोस्ट बन्दा थाना गोला जिला रामगढ़ के निवासी है। रामगढ एसपी ने बताया कि 7 सदस्य अभी भी फरार हैं। उन लोगों की गिरफ्तारी जल्द कर ली जाएगी। यह गिरोह जंगल में ग्रामीणों के वेश में सक्रिय रहता था। इनके पास से बरामद टांगी इनके अपराधों पर पर्दा डालने का काम करती थी। देखने पर लगता था कि वे जंगल में लकड़ी काटने का काम करते हैं। लेकिन असल में अपहरण की घटनाओं को अंजाम देते थे।।रामगढ़ एसपी ने बताया कि इन लोगों का रजरप्पा और गोला थाना में पुरानी अपराधिक घटनाओं में भी इनका नाम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *