गढ़वा: बाप ने दो बेटियों को बेचा, तीसरी के सौदा करने से पहले बेटी पहुंची थाने, दो गिरफ्तार

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट

गढ़वा: गढ़वा जिले में 2 बेटियों को बेचने तथा तीसरी बेटी की सौदा करने का मामला उजागर हुआ है . जिले के मेराल के सिहो गांव में पिता ने ही अपनी दो बेटियों को बेच दिया जबकि तीसरी बेटी खरीदने का सौदा कर उत्तर प्रदेश के जौनपुर से तीन शख्स उसे लेने मेराल आए थे. लेकिन किसी तरह बड़ी बेटी भागकर मेराल थाना पहुंच गई और पिता की करतूत के बारे में पुलिस को बताई. पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए पिता समेत यूपी के एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया.

इस सम्बंध में लड़की ने पुलिस को सूचित कि उसके पिता प्रवेश भुइंया ने उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के हिम्मतनगर निवासी अर्जुन लाल के हाथों उसकी दो छोटी बहनों को बेच दिया. अब पिता ने उसका भी सौदा कर दिया है.

पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए पिता समेत यूपी के एक ब्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया. जहां से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया.

पुलिस ने तीनों बहनों का 164 के तहत कोर्ट में बयान दर्ज कराया. और तीनों बहनों को मां के हवाले कर दिया.

मिली जानकारी के अनुसार पिता ने करीब एक वर्ष पूर्व यूपी के अर्जुन लाल के हाथों 20 हजार रुपए में 17 वर्षीय मझली बहन को बेच दिया. अर्जुन लाल ने उसकी शादी अपने बेटे राजू जैन से मंदिर में करवा दी. फिलहाल वह गर्भवती है. आरोपी पिता ने 20 दिन पूर्व अर्जुन लाल के हाथों ही 15 हजार रुपए में 15 वर्षीय छोटी बेटी को भी बेच दिया. गत 20 सितंबर को दोनों बहन को साथ लेकर अर्जुन लाल गढ़वा आया था. लगाए गए आरोप के अनुसार पिता बड़ी बेटी को भी उसके हाथों बेचने की कोशिश कर रहा था.

लेकिन बच्चियों की मां गीता देवी ने बेटी बेचने के आरोपों को गलत बताते हुए कहा कि बड़ी बेटी किसी के बहकावे में आकर पिता पर केस दर्ज कराई है. मां के मुताबिक मझली बेटी की शादी पूरे परिवार की सहमति से एक वर्ष पहले कराई गई थी. छोटी बेटी उसके घर घूमने गई थी. उसे बेचा नहीं गया था. इस मामले पर एसडीपीओ अवध कुमार यादव ने बताया कि बड़ी बेटी के आवेदन पर पिता और एक शख्स को पकड़ कर जेल भेज दिया गया है. मामले में की छानबीन की जा रही है.